उत्तर प्रदेश

“मैं विकास दुबे हूँ कानपुर वाला” इस तरह मंदिर के बाहर उज्जैन मे पकड़ा गया विकास दुबे |

मौ0 तारिक अंसारी

(न्यूज़ एडिटर)

उज्जैन: उत्तर प्रदेश के कानपुर में पिछले हफ्ते आठ पुलिसकर्मियों को घेरकर बेरहमी से हत्या करने के आरोपी कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को उज्जैन में गिरफ्तार कर लिया गया है|  उज्जैन के महाकाल में दर्शन के लिए गया था, तभी वहां के गार्ड ने उसे पहचाना | जिसके बाद वहां की पुलिस एक्शन में आई और उसे वहीं धर लिया | कानपुर में घटना को अंजाम देकर फरार विकास पहले दिल्ली-एनसीआर पहुंचा, लेकिन पुलिस की जबरदस्त दबिश के बाद वह मध्यप्रदेश के उज्जैन पहुंचा, जहां उसे एमपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया |

बताया जा रहा है कि गुरुवार सुबह वह 8 बजे महाकाल मंदिर परिसर पहुंचा, वहां प्रसाद की एक दुकान पर पहुंचा| दुकानदार को जब शक हुआ | उसने मंदिर सिक्योरिटी को बताया | जब पूजा करके वो बाहर निकला तो सिक्योरिटी वाले उसे लेकर आये| आईडी दिखाने को कहा जो किसी और के नाम से बनी थी| इससे पहले सूचना आई थी कि उज्जैन में महाकाल मंदिर में दर्शन करने गया था| वहां गार्ड ने उसे पहचान लिया| जब सुरक्षा गार्ड ने नाम पूछा तो उसने विकास दुबे बताया इसके बाद गार्ड ने पुलिस को जानकारी दी कि विकास दुबे मंदिर में बैठा है| पुलिस को जैसे ही यह जानकारी मिली तो वह एक्शन में आ गई| पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर उसे गिरफ्तार कर लिया| उज्जैन पुलिस अभी उससे पूछताछ कर रही है|

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश ने सरकार पर निशाना साधा है. अखिलेश ने ट्वीट कर लिखा, ख़बर आ रही है कि ‘कानपुर-काण्ड’ का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है. अगर ये सच है तो सरकार साफ़ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ़्तारी. साथ ही उसके मोबाइल की CDR सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके.

उज्जैन से विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से बातचीत की है | एमपी सीएमओ कार्यालय के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन से विकास दुबे की गिरफ्तारी पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की| मध्य प्रदेश पुलिस उसे उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपेगी| यूपी एसटीएफ की एक टीम कुछ देर बाद उज्जैन पहुंच जाएगी, जिसके बाद एमपी पुलिस एसटीएफ के हाथों उसे सौंप देगी| हालांकि अभी मीडिया के सवालों से बचने के लिए दुबे को गुमनाम जगहों पर ले जाया गया है|

यूपी एसटीएफ की एक टीम कुछ देर बाद उज्जैन पहुंच जाएगी, जिसके बाद एमपी पुलिस एसटीएफ के हाथों उसे सौंप देगी| हालांकि अभी मीडिया के सवालों से बचने के लिए दुबे को गुमनाम जगहों पर ले जाया गया है|

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *