प्रदेश

20 लाख दे दो वरना जान से मरवा दूंगा, अब अमेठी में कारोबारी को मिल रही धमकियां, पुलिस जुटी जांच में

रिपोर्ट:-आदित्य तिवारी

 

 

उत्तर प्रदेश सरकार सुशासन के लाख दावे भले ही करती हो लेकिन आए दिन अपराधियों के द्वारा किए गए कार्य सरकार के दावों की पोल खोलते नजर आ रहे हैं। समूचे प्रदेश में जिस प्रकार अपराधियों को लेकर हाहाकार मचा हुआ है अपराधियों के अंदर से पुलिस का खौफ बिल्कुल खत्म हो चुका है। आए दिन किसी न किसी जिले से बड़ी वारदातें देखने व सुनने को को मिल जाती हैं। इसी तरह अपराधिक का एक और नमूना अमेठी में देखने को मिला है जहां पर एक अज्ञात व्यक्ति के द्वारा नंबर बदल बदल कर मोबाइल पर फोन करके मोरंग के व्यवसाई से 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी जा रही है इसी के साथ अपराधी द्वारा यह भी कहा जा रहा है कि 20 लाख रुपए दे दो वरना मरवा दूंगा। फिलहाल पीड़ित व्यक्ति की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए जा शुरू कर दी है इसी के साथ पीड़ित को सुरक्षा व्यवस्था भी मुहैया करा दी गई है।

अमेठी जिले के जायस थाना क्षेत्र अंतर्गत मोहल्ला चौधराना के रहने वाले मौरंग व्यावसाई मकबूल अहमद पुत्र लाल मोहम्मद से 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई है। रंगदारी मांगने वाले व्यक्ति ने धमकी देते हुए कहा है कि यदि 24 घंटे में 20 लाख रुपये नहीं दिया तो जान से मरवा दूंगा। इस मामले में जायस थाने में शिकायत दर्ज करायी गई है। कोतवाली पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से व्यवसाई के घर पर सुरक्षाकर्मी तैनात कर दिया है।
जायस कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला चौधराना निवासी मकबूल अहमद पुत्र लाल मोहम्मद गिट्टी मौरंग के साथ-साथ कोटेदार व मदरसा के संचालक भी है। जायस थाने में दी गई तहरीर में मौरंग व्यवसाई मकबूल अहमद ने बताया है कि 28 जुलाई को उनके मोबाइल पर दोपहर करीब पहली बार 11 बजकर 42 मिनट पर 9557444799 से फोन कर रंगदारी मांगने वाले ने मकबूल अहमद नाम लेते हुए कहा कि 24 घंटे के अंदर 20 लाख दे देना वरना जान से मरवा दूंगा। इतना सुनते हुए व्यवसाई पहले तो सोचा की कोई जान पहचान वाला आवाज बदलकर हो सकता है मजाक कर रहा होगा। व्यवसाई ने बताया कि मैने रंगदारी मांगने वाले से कहा कि इतनी बड़ी रकम हम कहां से देंगे। लेकिन जब दोबारा 11 बजकर 57 मिनट पर 9675556265 से फोन आया और उसने पैसे की बात पुनः दोहराई तो मैं सोचने पर मजबूर हो गया और मामले को गंभीरता से लिया। लेकिन तब तक 2 बजकर 33 मिनट पर तीसरी बार फोन आया और गाली देते हुए कहा कि अभी समझ में नहीं आया क्या…? गिट्टी मौरंग, धर्मकांटा, कोटेदारी, मदरसा के संचालक हो और जमींदार भी हो तुम्हारे लिए इतनी रकम क्या है। इतना सुनते ही व्यवसाई अपने घर पहुंचकर घटना के बारे में परिजनों से बताई और सलाह मशविरा करते करते चौथी और आखिरी बार 3 बजकर 21 मिनट पर 8057176417 से रंगदारी मांगने वाला कहता है कि ये आखिरी काल है अगर 24 घंटे में 20 लाख रुपये नहीं मिले तो जान से मरवा दूंगा। व्यवसाई मकबूल अहमद ने कोतवाली पहुंचकर घटना से अवगत कराते हुए तहरीर कोतवाली पुलिस को दी। तहरीर मिलते ही कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर व्यवसाई की सुरक्षा के लिए सुरक्षा कर्मी तैनात कर दिया है। रंगदारी मामले में व्यवसाई का परिवार डरा सहमा है। जिले के अपर पुलिस अधीक्षक दयाराम सरोज ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है जायस कोतवाली में व्यवसाई की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया गया है। व्यवसाई की सुरक्षा के लिए सुरक्षा कर्मी तैनात कर दिया गया है। रंगदारी मांगने वाले जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *