समाचार

अलीगढ़ अधिकारियों के कार्यालय पर लटके मिले ताले अधिकारी के पास शिकायत लेकर पहुंचे फरियादी परेशान बीजेपी विधायक ने किया अचानक तहसील का दौरा

रिपोर्ट:-मुकेश कुमार उपाध्याय

 

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त आदेशों और निर्देशों के बाद भी अलीगढ़ जिले में मौजूद अधिकारियों के कान पर नहीं रेंगती जू,तभी तो बीजेपी विधायक के अचानक तहसील कार्यालय में किए गए दौरे के दौरान अधिकतर अधिकारियों के कार्यालय पर लटके पाए गए ताले तहसील परिसर में मौजूद मिला केवल एक अधिकारी।

जनता की शिकायतों का भार आखिर कैसे संभालेगा इतने भार को एक अधिकारी ऐसे में तहसील कार्यालय से नदारद अधिकारियों के खिलाफ कब होगी कार्यवाही।जहां अधिकारियों की शिकायत के लिए कमिश्नर से लेकर अलीगढ़ के जिला अधिकारी अवगत कराने और प्रदेश के मुख्यमंत्री को बीजेपी विधायक पत्र लिखकर अधिकारियों के शिकायत कर सख्त कार्यवाही की गई मांग।

खैर विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक अनूप वाल्मीकि सुबह करीब 10:30 बजे तहसील खैर कार्यालय में अचानक निरीक्षण करने के लिए पहुंच।जहां तहसील परिसर में अधिकारियों के पहुंचने से पहले ही पीडि़त फरियादी अपनी फरियाद लेकर तहसील परिसर में उप जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर खड़े हुए थे।

लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त निर्देशों के बावजूद भी तहसील में तैनात अधिकारियों से लेकर स्टॉक तक विधायक के दौरे के दौरान तहसील कार्यालय के अंदर नजर नहीं आया।जब स्थानीय विधायक ने तहसील कार्यालय का दौरा किया इस दौरान खैर तहसील के अंदर जितने भी अधिकारी और कर्मचारी तैनात है।

उन सभी कर्मचारियों का हाजिरी रजिस्टर चेक किया गया जिसके बाद कैप खैर तहसीलदार 10:15 पर पहुंचे जबकि एसडीएम खैर छुट्टी पर गए हुए थे इस दौरान तहसील में केवल आरके और टाइपिस्ट मौजूद था बाकी तहसील अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों तक पूरा स्टाफ तहसील कार्यालय से नदारद मिला था।

तहसील परिसर में सप्लाई इंस्पेक्टर के कार्यालय पर 10:25 मे भी ताला लगा मिला, इसी के बराबर में बने वन विभाग के कार्यालय पर भी ताला जड़ा हुआ था जिसके बाद तहसील कार्यालय मे भी तीन अधिकारी नियुक्त उन 3 अधिकारियों में भी मात्र एक अधिकारी तहसील कार्यालय में उपस्थित पाए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *