प्रदेश

बदायूँ के इस गांव के लोगों ने सरकारी जमीन कब्जाकर बना दिये मकान और बारातघर,हर कोई पूछ रहा आखिर किसकी शह पर हुआ ये पूरा खेल

रिपोर्ट:-नियाज़ी खान

यूपी के बदायूँ में एक गांव की जमीनी हकीकत सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे और शायदआपको विश्वास ही नही होगा कि आखिर यह सब किसके इशारे पर हो गया सरकारी जमीन पर पक्के मकान ही नहीं बल्कि ग्रामीणों को निकलने का रास्ता बन्द कर उस पर भी कब्जा कर लिया गया जिससे ग्रामीणों को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है , वहीं ग्राम प्रधान का बचकाना बयान भी चौकाने वाला है जिस पर यकीन नहीं किया जा सकता !

बदायूँ के ब्लाक कादर चौक का गांव सकरी कासिमपुर इस समय दबंगई की जीती जागती वह तस्वीर है जिस पर शायद कोई भी आसानी से यकीन नहीं करेगा ! तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि गांव में खलियान की गाटा संख्या 189 व 326 दबंगों के कब्जे में है और उसपर न सिर्फ पक्के मकान बने हुए हैं बल्कि बारात घर का भी निर्माण हो गया !

आपको बता दें कि खलिहान के लिये आवंटित जमीन पर कानूनी तौर पर स्थाई या अस्थाई निर्माण गैर कानूनी है बावजूद इसके खलिहान की जमीन पर स्थाई निर्माण हो जाना किसी अचम्भे से कम नहीं है ! वहीं दबंगई की सारी हदें पार करते हुए अब दबंगों ने ग्रामीणों के निकास पर भी तारकशी कर रास्ते पर भी कब्जा जमा लिया ! निकलने वाले रास्ते पर पेड़ पौधे लगाकर रास्ता भी बंद कर दिया गया !

ग्रामीणों ने बताया कि तमाम शिकायतों के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं की गई ! इस बावत जब प्रधान से बात की गई तो उनके बेतुके बोल सुनकर शायद आपको भी हैरानी होगी !

प्रधान ने दोटूक शब्दों में यह कहकर पल्ला झाड़ने का प्रयास किया कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं है ! उधर गांव के प्रधान का यह बयान किस हद तक सही है इसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है !


प्रधान की चुप्पी और दबंगों की दबंगई से ग्रामीण ख़ौफ़ज़दा हैं और उन्होंने न्याय दिलाने की जिला प्रशासन से गुहार लगाई है ! बरहाल गांव की इस बदहाली पर सवाल उठना लाजिमी है और देखना यह है कि आखिर जिला प्रशासन इस पर क्या कार्यवाही करता है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *