प्रदेश

बदायूँ में नही मिल रहा खाद, किसान हुए परेशान

रिपोर्ट:-नियाज़ी खान

 

देश की मोदी सरकार व प्रदेश में योगी सरकार भलेही किसानों को लेकर लाख दावे कर रही हो , धरातल पे देखा जाए तो सारी योजनाएं दावे दम तोड़ती नज़र आरही हैं ऐसा कुछ मामला यूपी के जिला बदायूँ का सामने आया है जहां इफको किसान सेवा केंद्र पर यूरिया खाद को लेकर मारामार मची हुई है। केंद्र पर यूरिया खाद की खेप आने पर क्षेत्र के किसानों की भीड़ एकत्र हो गई किसानों को खाद नही मिला कुछ चंद किसानों को खाद देकर टाल दिया जाता है।

किसानों को यूरिया खाद ना मिलने से परेशान नजर आए। इफको किसान सेवा केंद्र सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां भी उड़ाती नज़र आईं , जिला बदायूँ के तहसील बिसौली में इफको किसान सेवा केंद्र पर काफी किसानों को खाद ना मिलने से नाराज है और उन्होंने इसी को लेकर हंगामा भी काटा और गोदाम स्टॉप पर ब्लैक करने के आरोप भी लगाएँ । इफको किसान सेवा केंद्र ये भूल ही गया कि वह इस समय कोरोना तेजी से अपने पैर पसार रहा है और हमें सरकार की गाइडलाइन का किसानों को पालन कराना चाहिए। इफको किसान सेवा केंद्र शोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाता नज़र आया है और किसानों को भी खाद के लिए काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिसका अंदाजा आप खुद इन तस्वीरों में देख कर लगा सकते हैं।लाइन में लगे कुछ किसानों का कहना है कि वह 3 दिन से गोदाम के चक्कर काट रहे हैं पर हम लोगों को आज तक खाद नसीब नहीं हुआ है।कुछ किसानों ने कतार बद्ध होकर धक्का-मुक्की शुरू कर दी। जिसको लेकर पुलिस बल का सहारा लेना पड़ा। खाद नहीं मिलने से किसानों ने जमकर हंगामा काटा केंद्र कर्मचारी अधिकारियों पर ब्लैक करने के आरोप भी लगाएँ । देर शाम तक खाद नहीं मिलने से नाराज किसान हंगामा काटते रहे। इसके बाद भी बहुत सारे किसान खाद न मिलने से मायूस होकर वापस घर को लौट गए।इफको किसान सेवा केंद्र पर तैनात अधिकारियों ने सभी किसानों को यूरिया खाद मुहैया कराने का भरोसा दिलाया तो कहीं जाकर किसान शांत हुए।किसानों का आरोप है कि उन्हें इसलिए खाद नहीं मिल पा रहा है क्योंकि केंद्र की अधिकारी कर्मचारी ब्लैक में खाद को बेच देते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *