प्रदेश

बलिया बापू की पुण्यतिथि पर मनाया गया कुष्ठ निवारण दिवस निकाली गई जन जागरूकता रैली

रिपोर्ट:-संजय कुमार तिवारी

 

बलिया,कुष्ठ रोग के प्रति समुदाय को जागरूक करने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि (30 जनवरी) पर प्रत्येक वर्ष कुष्ठ निवारण दिवस मनाया जाता है। इसी क्रम में राष्ट्रीय कुष्ठ निवारण कार्यक्रम के तहत शनिवार को टी डी कॉलेज चौराहे से मुख्य चिकित्सा अधिकारी के कार्यालय तक जन जागरूकता रैली निकाली गई । रैली को मुख्य विकास अधिकारी डॉ० विपिन जैन एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० राजेंद्र प्रसाद द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया । कुष्ठ रोग निवारण कार्यक्रम के तहत स्पर्श कुष्ठ रोग जागरूकता अभियान आज से 13 फरवरी 2021 तक चलेगा। अभियान के तहत लोगों मे कुष्ठ रोग के लक्षणों व उपचार के प्रति भी जागरूकता फैलाई जाएगी।


सीएमओ ने बताया कि इस दिवस को मनाने का उद्देश्य लोगों में इस रोग के प्रति जागरूकता फैलाना है। कुष्ठ रोगियों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए यह कार्यक्रम हर वर्ष 30 जनवरी को बापू की पुण्यतिथि पर कुष्ठ रोग निवारण दिवस के रूप में मनाया जाता है। सीएमओ ने बताया कि कुष्ठ रोग का उपचार संभव है। इस अभियान के दौरान लोगों को कुष्ठ रोग के प्रति जागरूक किया जाएगा। इसके लिए आशा, एएनएम व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा प्रचार-प्रसार सामाग्री वितरित कर जागरूक किया जाएगा। प्रचार-प्रसार सामग्री में कुष्ठ रोग के लक्षण तथा जांच व इलाज के बारे में पूरी जानकारी रहेगी। इसके साथ ही कुष्ठ रोग विभाग की टीम घर-घर जाकर लक्षणों की जांच करेगी।जिला कुष्ठ रोग अधिकारी डॉ० एस के तिवारी ने बताया कि अभियान के दौरान यदि किसी भी व्यक्ति के अन्दर कुष्ठ रोग के लक्षण पाए जाते हैं तो उनका नाम रजिस्टर में दर्ज करके निःशुल्क जांच के लिए सरकारी अस्पताल भेजा जाएगा। जांच के बाद अगर कुष्ठ रोग सामने आता है तो उसको कुष्ठ की निःशुल्क दवाएं तब तक दी जाएंगी, जब तक उसका कुष्ठ रोग पूरी तरह से ठीक न हो जाए। उन्होने बताया की जनपद में वर्तमान में लगभग 118 कुष्ठ रोगी है, जिनका निःशुल्क इलाज किया जा रहा है।कुष्ठ रोग के लक्षण जिला कुष्ठ रोग अधिकारी ने बताया कि त्वचा पर हल्के लाल या तांबई रंग के दाग या धब्बे हों, त्वचा के दाग धब्बों में संवेदनहीनता, सुन्नपन हो, पैरों में अस्थिरता या झुनझुनी हो, हाथ पैर या पलकें कमजोर हों, नसों में दर्द, कान व चेहरे पर सूजन या गांठ हो, हाथ या पैरों पर घाव हों, लेकिन उनमें दर्द न हो आदि ये सभी कुष्ठ रोग के लक्षण हैं जिसकी तुरंत जांच व इलाज कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *