फोटो

केमिकल  फैक्ट्री में हुए धमाके से दहला इलाका , महिला सहित तीन लोग झुलसे 

= मुज़फ्फरनगर में शहर कोतवाली क्षेत्र के आबादी वाले अंबा विहार इलाके में एक फैक्ट्री में जबरदस्त विस्फोट से आग लग गयी जिससे पूरा इलाका दहल उठा।  उक्त दवा फैक्ट्री रिहायशी इलाके में चल रही थी।जिलाधिकारी आवास के ठीक पीछे कालोनी में फैक्टरी में हुए धमाके में कई लोगो के घायल होने की खबर है। तेज धमाके के साथ पूरी बिल्डिंग गिर गई। फैक्ट्री मालिक का कहना है कि ब्लास्ट नहीं हुआ है। अग्निशमन विभाग को भी भी फैक्ट्री की जानकारी नहीं लेकिन फैक्ट्री मालिक का कहना है कि फैक्ट्री अवैध नहीं है। मामले की जानकारी पर पुलिस मौके पर पहुंच गई है और राहत कार्य शुरू किए गए हैं। ब्लास्ट में हुए घायलों को निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

 

= जनपद मुजफ्फरनगर से है जहां उस समय अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया जब एक फैक्ट्री में भीषण ब्लास्ट से लगी आग से दवा फैक्टरी धराशाई हो गई। हादसे में 4-5  लोग गंभीर रूप से घायल हो गए ब्लास्ट में घायल लोगो को निकट के निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।  यह हादसा जिलाधिकारी आवास के ठीक पीछे लंबे समय से रिहायसी कॉलोनी में चल रही दवा फैक्ट्री विक्रम केमिकल में हुआ है।

ब्लास्ट होने पर चंद मिनटों में ही दवा फैक्ट्री की बिल्डिंग ताश के पत्तों की तरह इधर-उधर बिखर गई। मौके पर मौजूद लोगों ने आनन-फानन में घटना की सूचना दमकल विभाग को दी गई। सूचना मिलते ही दमकल विभाग की गाड़ियां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। गनीमत रही कि इस हादसे में कोई भी जनहानि नहीं हुई।

वही केमिकल फैक्ट्री के मालिक दीपक का कहना है की यह दवा फैक्ट्री बहुत पुरानी  है और इस फैक्ट्री में ब्लास्ट नहीं हुआ बल्कि मोटर में आग लगाने से फैक्ट्री में आग लगी है।  काम कर रहे लोगो को बचने के लिए फैक्ट्री में बानी कांच की दीवारों को तोडा गया है जिससे काम करने वालो को सुरक्षित निकाला  गया है।  बताया जा रहा है कि यह फैक्ट्री अग्निशमन विभाग की चेतावनी के बिना ही व्यस्त इलाके में काफी लंबे समय से चल रही थी। वहीं अब सोचने वाली बात यह है कि अगर इस दौरान कोई बड़ा हादसा हो जाता तो इसका जिम्मेदार कौन होता।

= दीपक (दवा फैक्ट्री मालिक)

= रमा शंकर तिवारी (अग्नि शमन अधिकारी मुज़फ्फरनगर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *