अन्तर्राष्ट्रीय

ग़लती ट्रम्प ने की भुगतना हमें पड़ रहा हैः जैक सुलीवान

अमरीका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने कहा है कि परमाणु समझौते से निकलने का भुगतान हमें इस समय करना पड़ रहा है।

जैक सुलीवेन ने वियना में परमाणु वार्ता के सातवें चरण की समाप्ति पर कहा कि परमाणु समझौते से निकलने की भरपाई अब इस समय वाशिग्टन को करनी पड़ रही है।

अमरीका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने शुक्रवार को अमरीका की विदेशी संबन्धों की परिषद में बोलते हुए ईरान के परमाणु कार्यक्रम में प्रगति के बारे में वाशिग्टन की चिंता का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि जबसे हम परमाणु कार्यक्रम से निकले हैं तबसे उन्होंने अपने परमाणु कार्यक्रम को विस्तृत किया है।

जैक सुलीवेन के अनुसार इस कार्यक्रम को फिर से सीमित करना, पहले की तुलना में अधिक कठिन है। उन्होंने यह बात स्वीकार की है कि ट्रम्प द्वारा एकपक्षीय ढंग से परमाणु समझौते से निकलने के कारण वाशिग्टन अलग-थलग पड़ा है।

उनका कहना था कि वाशिग्टन का धैर्य सीमित है तथा ईरान परमाणु कार्यक्रम में विस्तार के साथ परमाणु समझौते में वापसी की संभावना घटती जाएगी। इससे पहले अमरीका के विदेशमंत्री ने भी कहा था कि सन 2015 में अमरीका का परमाणु समझौते से एकपक्षीय ढंग से निकल जाना वास्तव में बहुत बड़ी ग़लती थी।

वियेना की परमाणु वार्ता ईरान के वरिष्ठ परमाणु वार्ताकार अली बाक़ेरी कनी ने इस वार्ता के सातवें चरण की समाप्ति पर कहा कि समझौता अब सामने वाले पक्ष के इरादे से संबन्धित है। उन्होंने कहा कि सामने वाला पक्ष अगर इस्लामी गणतंत्र ईरान के दृष्टिकोणों को सही ढंग से समझकर स्वीकार करे तो वार्ता का अगला चरण इसका अन्तिम चरण हो सकता है जिसमें बहुत ही कम समय में सहमति पर पहुंचा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *