प्रदेश

गोरखपुर छात्र नेता मनीष ओझा द्वारा पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने हेतु इमरजेंसी वार्ड पर धरना देकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिया ज्ञापन

रिपोर्ट:-रविन्द्र चौधरी

 

गोरखपुर।नेताजी सुभाष चंद्र बोष जिला अस्पताल गोरखपुर इमरजेन्सी विभाग के आर्थो वार्ड में डाक्टरो द्वारा अत्यन्त निर्धन व विकलांग बच्ची मानवी त्रिपाठी के विकलांग पिता सुशील त्रिपाठी से आपरेशन के नाम पर बीस हजार रूपए माॅगने के विरोध में छात्र नेता मनीष ओझा द्वारा पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने हेतु इमरजेन्सी वार्ड पर धरना देकर मुख्य चिकित्साधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन एस0आई0सी0 जिला अस्पताल डा0 ए0सी0 श्रीवास्तव को निःशुल्क ईलाज व आपरेशन के नाम पर मरीज पुजा चैबे पुत्री राम सिद्ध चर्तुवेदी से लिए गए 12000 रूपए की वापसी हेतु सौपा।


गोरखपुर 21 जनवरी 2021 को नेता जी सुभाष चन्द्र बोष जिला अस्पताल गोरखपुर के इमरजेन्सी विभाग के आर्थों वार्ड में निर्धन व विकलांग मरीज के परिजनों से बीस हजार रूपए माॅगने पर छात्र नेता मनीष ओझा ने 18 जनवरी को एस0आई0सी0 डा0 ए0सी0 श्रीवास्तव से मिलकर बताया लेकिन तब पर भी डाक्टरो के कानो पर जूॅ तक नही रेंगी और नही तो मरीज के परिजनो पर जल्द से जल्द रूपए जमा करने हेतु दबाव बनाया जाने लगा अन्यथा रेफर करने की धमकी दी जाने लगी।


छात्र नेता मनीष ओझा ने कहा कि डाक्टर को धरती का भगवान कहा जाता है लेकिन चंद ऐसे लोगो द्वारा पूरा चिकित्सक समूह संदेह के घेरे में आ जाता है, निर्धन व विकलाॅग मरीज आपरेशन हेतु रूपए कहा से लाएगे जबकि सरकार निर्धन व विकलांगों को उत्तम स्वास्थ्य व आपरेशन हेतु निःशुल्क ईलाज व आपरेशन की सुविधा देती है लेकिन जिला अस्पताल गोरखपुर सरकार के विपरित कार्य कर रही है जो बहुत ही निन्दनीय है।

जिसका मे विरोध करता हूॅ धरना स्थल पर आकर मुख्य चिकित्साधिकारी गोरखपुर सम्बोधित ज्ञापन एस0 आई0 सी0 जिला अस्पताल डा0 ए0सी0 श्रीवास्तव को ने पीड़ित मरीजो व मनीष ओझा को आश्वसन नहीं अपितु पुरा भरोसा दिलाया कि आपकी मांग पर तत्काल कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *