प्रदेश

गोरखपुर में दो बच्चियों के बाप ने सात साल की मासूम से की दरिंदगी, गिरफ्तार।

रिपोर्ट–रविन्द्र चौधरी

 

गोरखपुर जनपद के गगहा इलाके के एक गांव फिर हैवानियत की घटना सामने आई।गांव की महिला के साथ छेड़खानी कर रहे युवक ने उसकी सात साल की बच्ची के साथ गांव के किनारे बंधे पर स्थित झोपड़ी में रेप कर दिया।बच्ची की चीख सुनकर जब मां पहुंची तो वह खून से लथपथ हाल में मिली जिसके बाद गांव के युवक की यह दरिंगदी सामने आई।बच्ची की मां को देखकर आरोपित वहां से भाग गया।मां ने इसकी सूचना गगहा पुलिस को दी।पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपित सिंटू राव को गिरफ्तार कर लिया।आरोप है कि रेप के मामले में मुम्बई में भी सिंटू जेल गया था।वहां से छूटने के बाद पांच महीनेे पहले गांव आया था।


जानकारी के मुताबिक रविवार को दिन में दो बजे के करीब बच्ची के पिता भैंस चराने चले गए थे।जबकि बच्ची की मां बगल में कुछ ही दूरी पर घास साफ कर रही थी। तभी गांव का 38 वर्षीय सिंटू बंधे पर स्थित उसकी झोपड़ी की तरफ आया और बच्ची को झोपड़ी में अकेला पाकर वह हैवान बन गया।उसने बच्ची के साथ रेप कर दिया।बेटी की चीख सुनकर मां जब तक झोपड़ी में पहुंची तब तक आरोपी फरार हो गया था।लोकलाज के भय से मां ने रविवार को इसकी सूचना थाने पर नहीं दी।हालांकि जब गांव के अन्य लोगों को इसकी खबर हो गई तब सोमवार की सुबह बच्ची की मां ने गांव के आरोपी सिंटू राव के खिलाफ गगहा थाने में तहरीर दी।गगहा पुलिस ने दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर आरोपी व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया।वहीं बच्ची का मेडिकल कराया जा रहा है। महिला ने बताया कि आरोपित पहले उसे भी छेड़ता था लेकिन वह विरोध नहीं करती थी।पर जब बच्ची के साथ घटना हुई तब उसे रहा नहीं गया।सात साल की बच्ची से रेप करने वाला आरोपित सिन्टू खुद दो बेटियों का बाप है। बड़ी बेटी 14 साल तो छोटी 16 साल की है।आरोपित का पांच साल से उसकी पत्नी से कोई रिश्ता नहीं है।पांच साल पहले दोनों बेटियों को लेकर पत्नी कोलकत्ता चली गई है। कोलकता में रह कर गुजार-बसर के लिए कुछ काम करती है।पांच महीने पहले मुम्बई से गांव आया है सिन्टू खुद मुम्बई रहता था।वहां वह किसी निजी फर्म  में काम करता था।पांच महीने पहले वह घर आया था।ग्रामीणों के मुताबिक मुम्बई में रेप के आरोप में भी वह जेल गया था। जेल से छूटने के बाद ही गांव आया था।गगहा थाने में सिंटू के खिलाफ फिलहाल कोई मुकदमा नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *