अन्तर्राष्ट्रीय

ईरान ने फिर कहा सारी पाबंदियां हटें, यूरोप ने कहा वार्ता में तकनीकी पहलुओं पर प्रगति हो रही है

इस्लामी गणतंत्र ईरान ने कहा है कि परमाणु डील की बहाली की संभावना बढ़ रही है वहीं दूसरी ओर यूरोपीय देशों की ओर से बयान आया है कि वियेना वार्ता में ईरान की ओर से रखी गई मांगों के बारे में तकनीकी प्रगति हो रही है।

ईरान के मुख्य वार्ताकार अली बाक़ेरी कनी ने कहा कि वियेना में जारी वार्ता सार्थक रूप से आगे बढ़ रही है और ईरान परमाणु समझौते की प्रतिबद्धताओं की ओर तभी वापस लौटेगा जब उस पर लगाए गए प्रतिबंध व्यवहारिक रूप से हट जाएंगे।

अली बाक़ेरी कनी ने कहा कि पाबंदियां हटाने और इस संदर्भ में गैरेंटी देने के ईरान के प्रस्ताव को जितनी जल्दी स्वीकार कर लिया जाएगा उतनी जल्दी समझौता हो जाएगा। उन्होंने कहा कि समझौता तो बहुत कम समय में हो सकता है, शर्त यह है कि पाबंदियां हटाने के मामले में वाशिंग्टन गंभीरता दिखाए।

अली बाक़ेरी कनी का कहना था कि ईरान पर परमाणु कार्यक्रम केवल नागरिक लक्ष्यों के लिए है और ईरान 60 प्रतिशत के ग्रेड से ज़्यादा यूरेनियम का संवर्धन नहीं करेगा।

ईरान बार बार कह चुका है और यूरोपीय देशों के सामने अपना यह पक्ष स्पष्ट शब्दों में रख चुका है कि अगर अमरीका ने ईरान पर लगे प्रतिबंध वास्तव में हटाए तो ईरान परमाणु समझौते के तहत अपनी प्रतिबद्धताओं पर अमल शुरू कर देगा।

दूसरी ओर परमाणु समझौते में शामिल देशों ने अमरीका के प्रतिनिधियों के साथ वियेना में एक बैठक की मगर ईरान इस बैठक में शामिल नहीं हुआ। ईरान वियेना में उन देशों से वार्ता कर रहा है जो परमाणु समझौते से निकले नहीं हैं।

इस बैठक के बाद रूस के प्रतिनिधि मिख़ाइल औलियानोफ़ ने कहा कि इस वार्ता में नज़र आने वाले सार्थक माहौल से सबको संतुष्टि हुई।

यूरोपीय संघ के प्रतिनिधि एनरिक मूरा ने कहा कि सभी पक्षों में वार्ता को कामयाब बनाने का संजीदा इरादा दिखाई दे रहा है और ईरान की मांगों के संदर्भ में तकनीकी बिंदुओं पर प्रगति दिखाई दे रही है।

वहीं दूसरी ओर जर्मनी के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि जर्मनी, फ़्रांस, ब्रिटेन और अमरीका के विदेश मंत्रियों के बीच वियेना वार्ता के ताज़ा दौर के बारे में चर्चा हुई।

इस बीच रूस के प्रतिनिधि औलियानोफ़ ने कहा कि ईरान के विषय में रूस और अमरीका के वरिष्ठ संबंधित अधिकारियों की एक मुलाक़ात हुई जिसमें परमाणु समझौते को बचाने के लिए दोनों पक्षों के बीच कोआर्डिनेशन के संबंध में बात हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *