अन्तर्राष्ट्रीय

इस्राईल के मनहूस क़दम, अलजीरिया और मोरक्को में जंग का बिगुल बज गया

इस्राईल के एक समाचार पत्र ने लिखा है कि उत्तरी अफ़्रीक़ा में तेल अवीव की गतिविधियों की वजह से मोरक्को और अलजज़ाएर के बीच तनाव बढ़ गया है।

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार इस्राईल के युद्धमंत्री बेनी गांट्ज़ के मोरक्को दौरे और दोनों पक्षों के बीच कुछ सुरक्षा सहयोग के मुद्दे पर हस्ताक्षर होने के बाद ही अलजज़ाएर और मोरक्को के बीच तनाव बढ़ गया है।

इस्राईली समाचार पत्र जेरुज़्लम पोस्ट ने फ़्रांसीसी समाचार पत्र लूपीनियन की इस रिपोर्ट का हवाला दिया है जिसमें मोरक्को और अलजज़ाएर के बीच तनाव में वृद्धि की बात कही गयी है।

इस्राईली समाचार पत्र लिखता है कि यह तनाव, उत्तरी अफ़्रीक़ा में इस्राईल की गतिविधियों का परिणाम है।

जेरुज़्लम पोस्ट लिखता है कि बनी गांट्ज़ के मोरक्को दौरे और दोनों पक्षों के बीच सुरक्षा समझौते के बाद जो इस्राईल और मोरक्कोके बीच पहला समझौता था, रोबात और तेल अवीव के बीच सहयोग बढ़ने से अलजज़ाएर की चिंता में वृद्धि हुई है।

फ़्रांसीसी समाचार पत्र लूपीनियन ने एक जानकार सूत्र के हवाले से लिखा है कि अलजज़ाएर और मोरक्को के बीच तनाव दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है और आज तो उत्तरी अफ़्रीक़ा के दो देशों के बीच जंग तक की बातें होने लगी हैं।

अलजज़ाए की सेना के एक सूत्र का कहना है कि अलजज़ाएर, मोरक्को के साथ युद्ध नहीं चाहता लेकिन जंग की पूरी तैयारी है।

अलक़ुदसुल अरबी समाचार पत्र लिखता है कि इस सूत्र का कहना है कि इस्राईल की ओर से मोरक्को के समर्थन ने अलजज़ाएर को नाराज़ कर दिया है।

इस सूत्र का कहना है कि अलजज़ाएर की चिंता जिन हथियारों ने बढ़ाई है वह इलेक्ट्रानिक जंग के हथियार और ड्रोन हैं।

ज्ञात रहे कि इससे पहले मीडिया में यह ख़बर आई थी कि इस्राईल और मोरक्को के बीच 22 मिलियन डालर का समझौता हुआ था जिसमें इस्राईली हवाई उद्योग, मोरक्को को आत्मघाती ड्रोन कामीकाज़ से लैस करेगा। (AK)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *