फोटो

जबरन धर्म परिवर्तन (लव जिहाद) के आरोप में जेल में गए दोनों भाई पहुंचे वापस अपने घर बजरंग दल पर फंसाने का आरोप

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जनपद के कांठ थाने में बजरंग दल द्वारा एक परिवार को जबरदस्ती थाने ले जाया गया में जहां उन पर जबरन धर्म परिवर्तन (लव जिहाद) के आरोप लगाया गया,जिसके बाद पुलिस लड़की की मां की तहरीर के आधार पर कार्यवाही करते हुए दो सगे भाइयों को जेल भेजा गया था और युवती को नारी निकेतन भेज दिया गया था, जिसके बाद युवती को सीजीएम कोर्ट पेश किया गया और युवती ने सीजीएम कोर्ट में राशिद के पक्ष में बयान दर्ज कराएं, जिसके बाद युवती को ससुराल पक्ष के लोगों को सौंप दिया गया और आगे की कार्यवाही करते हुए दोनों ही भाइयों को कोर्ट ने बरी कर दिया जिसके बाद दोनों ही भाई घर पर पहुंच गए हैं।

मुरादाबाद के कांठ थाने में पिंकी की मां ने पुलिस को तहरीर दी थी और आरोप लगाया था कि उसकी बेटी का जबरन धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है जिस पर पुलिस ने कार्यवाही करते हुए दो भाइयों को जेल भेजा था लेकिन जब सीजीएम कोर्ट में युवती के बयान दर्ज कराए गए तो युवती ने बताया कि उसने 6 माह पूर्व ही राशिद नाम के लड़के से निकहा कर लिया है और वह 3 महीने की गर्भवती है, और उसके गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत लापरवाही के चलते हो गई है जिसके लिए उसने जिला अस्पताल पर गंभीर आरोप लगाए थे, पिंकी और उसके पति राशिद का कहना है हम लोगों ने 6 महीने पहले ही निकाह कर लिया था और बजरंग दल द्वारा फसाया गया है।

पिंकी
राशिद
सलीम

वीओ२:- वही राशिद और सलीम की मां ने जानकारी देते हुए बताया की दोनों ही लड़कों पर उनके गलत आरोप लगाया गया था, राशिद और पिंकी ने अपनी मर्जी से शादी की थी,पिंकी से किसीने कोई भी जोर जबरदस्ती नहीं की लेकिन फिर भी उन लोगों को बजरंग दल वालों ने पकड़ लिया और पुलिस को दे दिया जिसके बाद लड़की की मां ने झूठी शिकायत कर दी और परिवार के लोगो को जेल में भिजवा दिया लेकिन आप सभी लोगों का शुक्रिया जो आपने हमारी मदद की और हमारे बेटे आज बाहर आ गए।

नसीम जहाँ (लड़को की माँ)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *