प्रदेश

कन्नौज माइनर सूखने से अन्नदाता की फसल चौपट सिंचाई विभाग की लापरवाही खामियाजा अन्नदाता को पड़ रहा है चुकाना

रिपोर्ट:-रईस खान

 

कन्नौज में माइनर सूखने से अन्नदाता की फसल चौपट हो रही है।सिंचाई विभाग की लापरवाही का खामियाजा अन्नदाता को चुकाना पड़ रहा है।हजारों बीघा गेंहू की फसल सूखने की कगार पर है।परेशान किसानों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मदद की गुहार लगायी है।


एक तरफ़ सरकार किसानों की आय दोगुनी करने के लिये कई तरह की योजनाएं शुरू कर रही है तो दूसरी तरफ किसानों से जुड़े विभाग अपनी लापरवाही के चलते उन्हें बर्बाद कर रहे हैं।मामला कन्नौज के छिबरामऊ विधानसभा क्षेत्र का है।यहां के सौरिख क्षेत्र के किसान माइनर सूखने से बर्बादी की कगार पर हैं।

इस इलाके में ज्यादातर गरीब किसान रहते हैं।जो अपनी थोड़ी जमीन पर फसल उत्पादन करते हैं।इनके पास नलकूप से सिंचाई करने के रुपये भी नही होते है।यह सभी करीब 2 हजार किसान पूरी तरह निचली गंग नहर से निकली माइनर पर आश्रित हैं।

नहर से माइनर तक पानी पहुंचाने का जिम्मा सिंचाई विभाग का है, लेकिन सिंचाई विबजाग एक साल से यहां के माइनरों तक पानी नही पहुंचा पा रहा।जिसके चलते हजारों बीघा गेंहू की फसल सूखने की कगार पर है।

भारतीय किसान यूनियन किसानों की इस समस्या को लेकर आगे आया है।भाकियू जिलाध्यक्ष राजा शुक्ला का कहना है कि सिंचाई विभाग को पानी पहुंचाने के लिये पत्र दिया जा चुका है।अगर जल्द ही माइनरों तक पानी नही पहुंचा तो अफसरों का घेराव किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *