फोटो

मौसम के बदलते ही बढ़ रहा है प्रदूषण का स्तर,एयर क्वालिटी इंडेक्स पहुंचा 406,AQI बढ़ने से बुज़ुर्गों को सांस लेने में हो रही है दिक्कत,एलर्जिक ब्रोंकाइटिस के अचानक बढ़े मरीज़,

मुरादाबाद अलीगढ़ नेशनल हाईवे स्थित सरकारी पौधशाला डोमघर में जमकर उड़ायी जा रही हैं सरकार के आदेशों की धज्जियां , नही रुक रहा जनपद में प्रदूषण फैलाने का काम !

: सरकार भले ही प्रदूषण रोकने की लाख कोशिश में लगी है लेकिन सरकारी महकमे इसकी धज्जियां उड़ाते नज़र आ रहे हैं , मामला मुरादाबाद अलीगढ़ नेशनल हाईवे स्थित सरकारी पौधशाला डोमघर का है , जहां पर दिन में ही प्रदूषण फैलाने की सामग्री को आग के हवाले किया जा रहा है , चोंकाने बाली बात ये है कचरे और पराली को पौधशाला के प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार की मौजूदगी में


जलाया जा रहा है , साथ ही इस हाईवे से अधिकारियों का निकलना बढ़ना लगा रहता है लेकिन कचरे और पराली में लगी आग और प्रदूषण होता किसी अधिकारी ने नही देखा !

-दीपावली का त्योहार आने में अभी हफ्ताभर का समय शेष है, लेकिन पीतल नगरी के प्रदूषण ने इस वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ दिया , मुरादाबाद का वायु गुणवत्ता सूचकांक 475 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर दर्ज किया गया है ! इसके बाबजूद भी मुरादाबाद में लगातार प्रदूषण बढ़ता ही जा रहा है, जिससे लोगों को काफी सारी समस्याएं आ रही हैं, मुरादाबाद जनपद की एयर क्वालिटी इंडेक्स 475 पहुंच गई है, जिससे बुजुर्ग और बच्चों को सांस लेने में समस्या आ रही हैं, जिसको देखते हुए नगर निगम लगातार जनपद में पानी का छिड़काव करा रहा है !

– जहां एक तरफ प्रदूषण विभाग प्रदूषण करने वालों पर कार्यवाही की बात कर रहा है , और जनता से अपील कर रहा है की सभी लोग मास्क का इस्तेमाल करें और प्रदूषण फैलाने बाले की जानकारी विभाग को दें , तो वहीं सरकारी पौधशाला में प्रभारी निरीक्षक की मोजूदगी में कचरा और पराली को बे धड़क होकर जलाया जा रहा है ! जिससे बुजुर्गों और बच्चों को सांस लेने में समस्या हो रही है, डॉक्टर की माने तो प्रदूषण के कारण जनपद में अलग-अलग तरह की बीमारियां पेर पसार रही हैं।

सरकार प्रदूषण फैलाने बालों पर कार्यवाई करने में शक्त नज़र आ रही है , जो कोई भी कचरा या पराली जला कर प्रदूषण फैलाता दिख रहा है उस पर कार्यवाई की जा रही है , फिर चाहें वो किसान हो या कारोबारी , लेकिन अब देखना ये होगा सरकारी पौधशाला के प्रभारी निरीक्षक पर किया कार्यवाई की जाती है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *