फोटो

मेरठ हरियाणा हिमाचल केरल में बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए अब मेरठ में भी पशु चिकित्सा विभाग की ओर से बढ़ी सतर्कता

मेरठ

हरियाणा, हिमाचल, केरल में बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए अब मेरठ में भी पशु चिकित्सा विभाग की ओर से सतर्कता बढ़ा दी गई है। जिला प्रशासन की तरफ से सभी एहतियाती कदम उठाए जा रहे है और डीएम ने भी आदेश दिया है, कि रेंडम चैकिंग भी की जाए ताकि किसी भी खतरे को टाला जा सके। सभी को शासन की गाडइलाइन का सख्ती से पालन कराने को कहा गया है। फिलहाल मेरठ में खतरे जैसी कोई बात सामने नहीं आयी है लेकिन एहतियात रखते हुए अभी मिग्रन्ट्स बर्ड्स को लेकर हस्तिनापुर सेंचुरी को बन्द किया गया है।

ज़िले में 29 पोल्ट्री फार्म है जहां करीब 6 लाख मुर्गियां रखी जाती है। वही 5.5 करोड़ अड्डों का उत्पादन होता है। इसके अलावा प्रशासन ने बताया कि 6.50 लाख से ज्यादा पक्षियों पर निगरानी रखी जा रही है। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ अनिल कंसल का कहना है कि हर गांव में 15000 जानवरों पर रखा एक चिकित्सक रखा गया है और आम लोगो से कहा कि अंडे को उबालकर ही खाएं । वही, डीवीओ ने बताया कि आम लोग यदि अंडे या मास का सेवन करते हैं तो उबाल कर खाएं उससे किसी भी तरह का नुकसान शरीर को नही होगा। साथ ही उन्होंने आदेश दिए है कि यदि किसी जवान पक्षी या पशु की मृत्यु होती है तो तुरंत उनको फ़ोन कर के जानकारी दी जाए और पूरी तरह से उस मृत पक्षी का प्रशिक्षण भी किया जाए।

डॉ अनिल कंसल, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *