फोटो

मुरादाबाद डेवलपमेंट अथॉरिटी की अनदेखी के चलते गई एक और किशोरी की जान

-मुरादाबाद के थाना सिविल लाइन चक्कर की मिलक में उस समय हड़कंप मच गया जब एक निर्माणाधीन बिल्डिंग का लिंटर गिर जाने से एक किशोरी की उसके मलबे में दबकर मौत हो गई ,मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा शब को कब्जे में लेकर मोर्चरी के लिए भेज दिया गया,


-मुरादाबाद के थाना सिविल लाइन चक्कर की मिलक में स्थानीय निवासी जौहर अली का मकान बन रहा था ,शनिवार को विल्ड़िंग के लेंटर डाला जा रहा था , निर्माणधीन मकान का लेंटर अचानक भरभरा कर गिर गया जिसमें भवन स्वामी जोहर अली की रिस्तेदार 15 वर्षीय समरीन बुरी तरह घायल हो गई, जब तक रेस्क्यू टीम द्वारा बचाव किया जाता तब तक मलबे में दबी किशोरी समरीन की मौत हो चुकी थी । एक नगमा नाम की लड़की मामूली रूप से घायल भी हुई है, मौके पर पहुंचे पुलिस के आला अधिकारियों द्वारा तथ्यों की जांच की जा रही है। और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई करने की बात पुलिस द्वारा कही जा रही है। बताते चले मुरादाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा मुरादाबाद के सुयोजित विकास को लेकर भले ही बड़े बड़े दावे किए जा रहे हो लेकिन प्राधिकरण की अनदेखिया भी कम होने का नाम नही ले रही है, जिसका जीता जागता उदाहरण चक्कर की मिल्क का यह अबैध निर्माणधीन भवन है, जिसमे आज एक किशोरी की जान चली गयी । मानकों को ताक म रख कर तैयार की जा रही यह इमारत प्राधिकरण के अधिकारियों की मिलीभगत ओर उसके दावों की सच्चाई की पोल खोल रही गई।प्राधिकरण द्वरा अगर समय रहते संज्ञान लिया जाता या रिहहिश के बीच बन रही इस इमारत के निर्माण में सुरक्षा के इंतेज़ाम किये जाते तो आज एक किशोरी को जान से हाथ नही धोना पड़ता। घटना को संज्ञान में लेकर जांच कर रहे सीओ सिविल लाइन से जब इस बाबत बात की गई तो उन्होंने बताया कि यह इमारत बीच आबादी में जोरों शोरों पर तैयार की जा रही थी पक्षियों की जांच की जा रही है जो भी तथ्य सामने आएंगे उस पर कार्रवाई की जाएगी ठीक है।

-मुरादाबाद डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा भले ही भवन निर्माण को लेकर बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हो लेकिन हकीकत में अगर देखा जाए तो प्राधिकरण के सभी दावे खोखले साबित होते दिखाई दे रहे हैं, प्राधिकरण के अधिकारियों की मिलीभगत के चलते मुरादाबाद में जिस तरह सेअबैध रूप से भवन निर्माण कराए जा रहे हैं उसको देख कर लगता है कि मुरादाबाद डेवलपमेंट अथॉरिटी के कर्मचारी भू माफियाओं से मिलीभगत करके सिर्फ अपनी जेबें गर्म कर रहे हैं उनको मुरादाबाद के विकास की चिंता ही नहीं है कुल मिलाकर प्राधिकरण की अनदेखी अगर ऐसे ही जारी रही तो आने वाले दिनों में मुरादाबाद के विकास का खाका क्या होगा यह भी एक सोचने का विषय है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *