प्रदेश

मुरादाबाद में एक ज्वेलर्स की दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे ने पुलिस की गुड वर्क की खोल दी पोल

रिपोर्ट:-शारिक सिद्दीकी

 

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में एक ज्वैलर की दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों ने पुलिस के गुड वर्क की पोल खोल दी . मुरादाबाद पुलिस ने 21 नवम्बर को प्रेस कांफ्रेंस कर दावा किया था की 20 नवम्बर को हुई लूट की घटना में दो चैन स्नेनेचर और एक ज्वैलर सोनू वर्मा शामिल थे जिन्हें गिरफ्तार कर उनसे कैश और लूटी गयी ज्वैलरी बरामद हुई है।

पुलिस के इस दावे की हवा आज उस वक़्त निकल गयी जब पकड़े गये ज्वैलर सोनू वर्मा की माँ अनीता वर्मा सोनू की दुकान के 19 नवम्बर के सीसीटीवी फूटेज लेकर एसएसपी मुरादाबाद के आफिस पहुँच गयीं और दावा किया की 19 नवम्बर को पुलिस की एसओजी टीम उनके बेटे को दुकान से उठा कर लाई थी और उसे 20 नवम्बर की फर्जी घटना में शामिल दिखा कर जेल भेज दिया।

पीड़ित ने सीसीटीवी फूटेज वायरल कर इन्साफ की गुहार लगाई है . घटना का फर्जी खुलासा करने वाले मुरादाबाद के एएसपी कुलदीप सिंह अब जाँच की बात कर रहे हैं।

पुलिस पर रस्सी का सांप बनाने के आरोप तो अक्सर लगते ही रहते हैं, लेकिन मुरादाबाद पुलिस और एसओजी टीम पर आज एक बुजुर्ग महिला ने जो आरोप लगाया है वो काफी गंभीर आरोप हैं, मुरादाबाद SOG टीम पर आरोप है की एसओजी टीम ने 19 नवंबर की दोपहर 3:00 बजे थाना कटघर और मझोला बॉर्डर पर ज्वैलरी की दुकान करने वाले सोनू वर्मा को उसकी दुकान से उठाया था और पुलिस ने 21 नवंबर को एक चेन स्नेचिंग की घटना का खुलासा किया।

और इसमें ये दिखाया कि सोनू घटना में शामिल चैन स्नैचिंग करने वाले आरोपियों से चोरी का माल खरीदता है, पुलिस ने 20 नवंबर को हुई एक चैन स्नेचिंग की घटना का माल भी 21 नवंबर को गुड वर्क के दौरान बताया था की  सोनू वर्मा ने लूट का सामान खरीदा था. सोनू वर्मा की मां ने आज जो सीसीटीवी फुटेज जारी किए हैं उसमें साफ नजर आ रहा है कि 19 नवंबर को एसओजी की टीम के दो पुलिसकर्मी सादे कपड़ों में सुनार की दुकान पर जाते हैं,।

सुनार की दुकान पर उसकी बेटी बैठी हुई है सुनार की दुकान में दो लोगों को घुंसता हुआ देखता है तो दौड़कर आता है इस बीच दोनों लोगों में से एक व्यक्ति बाहर आता है और फोन कर के एसओजी की बिना नंबर प्लेट लगी गाड़ी को बुलाता है और उसके बाद सुनार सोनू वर्मा को उस गाड़ी में बिठाकर SOG टीम ले जाती है, उसके बाद 20 नवंबर को थाना मझोला क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी के नेता की पत्नी के साथ चेन स्नेचिंग हो जाती है, इसका खुलासा अगले दिन 21 नवंबर को मुरादाबाद पुलिस के अपर पुलिस अधीक्षक कुलदीप सिंह करते हैं।

कुलदीप सिंह बताते हैं कि अधिकारियों के निर्देश पर अभियान चलाया जा रहा था और अभियान के तहत 3 लोगों को पकड़ा गया है उसमें सोनू को भी यह कहकर मीडिया के सामने पेश करते हैं कि सोनू ने दोनों बदमाशों से चेन स्नेचिंग में लूटा गया माल खरीदा था . सवाल ये की जब पुलिस सोनू को 19 नवम्बर को अपने साथ ले आई तो 20 नवम्बर को हुई लूट का माल वह कैसे खरीद सकता है ? पुलिस के खुलासे पर सवाल उठने के बाद अब पुलिस जांच कराने की बात कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *