प्रदेश

मुज्जफरनगर कचहरी में विधवा मां का विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने बेटे को भेज दिया फर्जी मुकदमे में जेल ग्रामीण भी आये दुखियारी मां के साथ

रिपोर्ट:-संजीव कुमार

मुज़फ्फरनगर के कचहरी परिसर में स्थित कलेक्ट्रेट कार्यालय पर आज एक विधवा माँ ने ग्रामीणों के साथ मिलकर पुलिस के खिलाफ जमकर नारे लगाये  वंही  पुलिस प्रसाशन और जिला प्रसाशन के आला अधिकारियो को प्रार्थना पत्र देकर थाना बुढ़ाना पुलिस पर  एक लाख रूपये न देने पर 11 वी कक्षा में पढ़ रहे बेटे को फर्जी मुठभेड़ में जेल भेजने का आरोप लगाते हुए न्याय की मांग की है। वंही एक अन्य निर्दोष युवक को भी फर्जी मुठभेड़ में दिखाकर जेल भेजा गया।


मुज़फ्फरनगर के कलेक्ट्रेट कार्यालय पर जनपद बागपत के ग्राम भड़ल थाना दोघट निवासी निर्मला ने गाँव के कुछ ग्रामीणों के साथ मिलकर आज बुढ़ाना पुलिस के विरुद्ध नारे बाज़ी कर पुलिस के आला अधिकारियो से न्याय की गुहार लगाई है।  निर्मला के साथ गाँव भड़ल से कलेक्ट्रेट कार्यालय पर पंहुचे प्रमोद कश्यप ने बताया कि हम आपको एक जानकारी देना चाहते हैं।

3 तारीख की भड़ल गांव की एक घटना है। पुलिस वाले एक निर्दोष लड़के को उठाकर ले आए, वहां पर मौजूद लोगो ने बताया कि आपके लड़के को पुलिस वाले उठाकर ले गए हैं। जब हम थाने में पहुंचे तो पुलिस ने कहा कि थोड़ी पूछताछ करनी है ,सुबह को छोड़ देंगे। जब हम सुबह थाने गए तो पुलिस ने कहा की तुम्हारे लड़के का तो चलन कट गया है। जब लड़के की माँ थाने पहुंची तो थाना पुलिस ने एक लाख रूपये की मांग करते हुए लड़के को छोड़ने की बात है।

पीड़िता गरीब और विधवा महिला है और उसका बीटा 11 कक्षा में पढता है। पीड़िता एक लाख रूपये पुलिस देती या बच्चो को देखती , अगले दिन 5 तारीख को समाचार पत्रों के माध्यम से जानकारी मिली कि चन्धेडी रोड पर मुठभेड़ में एक युवक घायल हुआ है।

शाहवेज पुत्र याकूब बुढ़ाना का रहने वाला है। भड़ल निवासी एक लड़के को फरार दिखाया है। फर्जी मुठभेड़ दिखाकर धारा 307,411 बाइक भी बरामद करके दिखा दिया। घायल युवक सीधा-साधा बच्चा है। जो 11वीं क्लास में पढ़ता है। उसको मुलजिम बना दिया है। पुलिस कौन सा काम करना चाहती है और क्या बताना चाहती है। आला अधिकारियों ने हमें आश्वासन दिया है कि हम इसमें जांच करेंगे और सीओ साहब को जांच दी गई है। हम यह चाहते हैं कि पीड़ित पक्ष को न्याय मिले और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई कर निलंबित किया जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *