फोटो

मुजफ्फरनगर एसपी क्राइम के नेतृत्व में पुलिस लाइन में कराया गया शस्त्रों का भौतिक सत्यापन

पुलिस लाइन में कराया गया शस्त्रों का भौतिक सत्यापन

मुजफ्फरनगर के पुलिस लाइन में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेशानुसार अनुसार एसपी क्राइम के नेतृत्व में शस्त्र धारकों का भौतिक सत्यापन कराया गया। जिसमें अलग-अलग थाना क्षेत्रों से शस्त्र धारकों ने पुलिस लाइन में पहुंचकर अपने शस्त्रों का भौतिक सत्यापन कराया। शस्त्रों के भौतिक सत्यापन का कार्यक्रम एक दिसंबर से लेकर 31 दिसंबर तक चलाया जायेगा। अपने शस्त्रों का भौतिक सत्यापन कराने के लिए प्रतिदिन सैकड़ो शस्त्र धारक पुलिस लाइन में पहुँचकर शस्त्रों का भौतिक सत्यापन करा रहे है। शस्त्रों के भौतिक सत्यापन का कार्य पुलिस लाइन के आर आई अब्दुल रईस खां और एसपी क्राइम दुर्गेश कुमार सिंह की देखरेख में कराया जा रहा है। एसपी क्राइम दुर्गेश सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि एसएसपी महोदय के निर्देशन में इस महीने के शुरुआत से शस्त्रों का भौतिक सत्यापन शुरू हुआ है।

प्रतिदिन एक थाने का सत्यापन होता है और कभी कभी एक ही थाने का भौतिक सत्यापन दो दिन तक चलता है। लोगो ने जो शस्त्र लिए हुए है। जिस शस्त्र धारक ने 2018 और 2019 कितने कारतूस लिए है कितने चलाये है और कितने कारतूस इनके पास बकाया बचे हुए है। उनका भौतिक सत्यापन किया जा रहा है। लाइसेंस से भी इसका मिलान किया जाता है लाइसेंस में कितने चढ़े हुए है कितने बकाया है। साथ ही जो कारतूस इन्होने चलाये है क्यों और कहा चलाये है वो भी इनसे लिखवाया जाता है। यह अभियान पुरे महीने चलाया जायेगा और जो थाना बच जायेगा उसके बात आगे भी यह अभियान चलाया जायेगा। जो व्यक्ति भौतिक सत्यापन कराने नहीं आएगा , छूट जायेगा या फिर सूचना नहीं मिल पाती है तो ऐसे शस्त्र धारकों को सूचना देकर दोबारा से सत्यापन कराया जायेगा।

बाइट = दुर्गेश सिंह (एसपी क्राइम)

फ्फ्फ्फ््फ्फ्फ्फ्फ्फ््फ्फ््फ््फ्फ्फ्फ्फ्फ््फ्फ्फ्फ्फ्फ््फ्फ््फ््फ्फ््फ्फ्फ््फ्फ्फ्फ्फ्फ््फ्फ््पुलिस लाइन में कराया गया शस्त्रों का भौतिक सत्यापन

एंकर = मुजफ्फरनगर के पुलिस लाइन में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेशानुसार अनुसार एसपी क्राइम के नेतृत्व में शस्त्र धारकों का भौतिक सत्यापन कराया गया। जिसमें अलग-अलग थाना क्षेत्रों से शस्त्र धारकों ने पुलिस लाइन में पहुंचकर अपने शस्त्रों का भौतिक सत्यापन कराया। शस्त्रों के भौतिक सत्यापन का कार्यक्रम एक दिसंबर से लेकर 31 दिसंबर तक चलाया जायेगा। अपने शस्त्रों का भौतिक सत्यापन कराने के लिए प्रतिदिन सैकड़ो शस्त्र धारक पुलिस लाइन में पहुँचकर शस्त्रों का भौतिक सत्यापन करा रहे है। शस्त्रों के भौतिक सत्यापन का कार्य पुलिस लाइन के आर आई अब्दुल रईस खां और एसपी क्राइम दुर्गेश कुमार सिंह की देखरेख में कराया जा रहा है। एसपी क्राइम दुर्गेश सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि एसएसपी महोदय के निर्देशन में इस महीने के शुरुआत से शस्त्रों का भौतिक सत्यापन शुरू हुआ है। प्रतिदिन एक थाने का सत्यापन होता है और कभी कभी एक ही थाने का भौतिक सत्यापन दो दिन तक चलता है। लोगो ने जो शस्त्र लिए हुए है। जिस शस्त्र धारक ने 2018 और 2019 कितने कारतूस लिए है कितने चलाये है और कितने कारतूस इनके पास बकाया बचे हुए है। उनका भौतिक सत्यापन किया जा रहा है। लाइसेंस से भी इसका मिलान किया जाता है लाइसेंस में कितने चढ़े हुए है कितने बकाया है। साथ ही जो कारतूस इन्होने चलाये है क्यों और कहा चलाये है वो भी इनसे लिखवाया जाता है। यह अभियान पुरे महीने चलाया जायेगा और जो थाना बच जायेगा उसके बात आगे भी यह अभियान चलाया जायेगा। जो व्यक्ति भौतिक सत्यापन कराने नहीं आएगा , छूट जायेगा या फिर सूचना नहीं मिल पाती है तो ऐसे शस्त्र धारकों को सूचना देकर दोबारा से सत्यापन कराया जायेगा।

 

= दुर्गेश सिंह (एसपी क्राइम)

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *