फोटो

नेशनल हाईवे “बलिया यूपी” के किनारे जलती हुई लाशों की कहानी सुनकर आप भी चौंक जाएंगे पढ़िए क्या है मामला

 सड़क पर शमशान की एक लाइव तस्वीर उत्तर प्रदेश के बलिया से सामने आई है। जहाँ रसड़ा कोतवाली थाना क्षेत्र के बलिया रसड़ा मार्ग के कोटवारी मोड़ से महज कुछ ही दूरी पर सड़क के फुटपाथ पर जलती हुई लाश को देखिये बलिया लखनऊ स्टेट एनएच की यह तसवीरे है जो शमशान में तब्दील हो गई है ।

यह कोई पहली लाश या फिर कोरोना मरीज की लाशें नही है यह वर्षो से पुरानी परंपरा चली आ रही है। और हर दिन यहां लाशें जलाई जाती है। बलिया की यह सबसे बिजी रोड है। जहाँ सड़क से महज दो कदम की दूरी पर ही लोगो ने यह शमशान घाट बना दिया है। जहा शमशान घाट का बैनर भी लगा हुआ है। सड़क पर ऐसी तसवीरे देख मासूम बच्चो हो,या फिर राहगीर हो या फिर गुजरने वाले वाहन हो उन सब पर बड़ा असर पड़ रहा है ।

वीओ – जलती हुई इस लास को देखिये स्टेट एनएच से महज 10 मीटर की दूरी भी नही है।लाश जलाने आये लोगो की माने तो सड़क किनारे लाश जलाने की यह सैकड़ो वर्ष पुरानी परंपरा है ।उनके पूर्वज भी यही लाश जलाते थे।कुछ लोग गंगा किनारे भी जाते है मगर आर्थिक स्थिति कमजोर होने के चलते लोग इसी सड़क के किनारे ही जलाते आ रहे है।

बाईट-संतोष राजभर (लाश जलाने आये मृतक के परिजन)

वीओ – शमशान घाट पर मौजूद लोगों की माने तो सड़क के फुटपाथ पर लाश जलाना सही नही है मगर रसड़ा नगरपालिका ने कोई ऐसी व्यवस्था नही दिया है। इसीलिए वर्षों से यहां सड़क पर लाश जलाने की परंपरा कायम है।

बाईट-मुंगेर राजभर( स्थानीय ग्रामीण)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *