उत्तर प्रदेश

ओवैसी बोले – UP की सत्ता में आयें तो 2 CM बनाएंगे, 2 दलों से हुआ गठबंधन…

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर नया गठबंधन ‘भागीदारी परिवर्तन मोर्चा’ बना है। इस गठबंधन में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन, बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी जन अधिकार पार्टी और वामन मेश्राम की बैकवर्ड एंड माइनॉरिटी कम्युनिटीज एंप्लाई फेडरेशन शामिल है। तीनों नेताओं ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसका ऐलान किया। इस गठबंधन के कन्वीनर बाबू सिंह कुशवाहा होंगे।
इस दौरान ओवैसी ने कहा कि अगर ये गठबंधन सत्ता में आता है, तो दो मुख्यमंत्री बनाए जाएंगे। एक मुख्यमंत्री दलित होगा, जबकि दूसरा ओबीसी समाज से। इतना ही नहीं तीन डिप्टी सीएम भी बनाए जाएंगे। इनमें मुस्लिम समुदाय का भी होगा। वहीं, बाबू सिंह कुशवाहा ने कहा कि इस गठबंधन में अभी और भी दल आ सकते हैं, दरवाजे बंद नहीं हैं। उन्होंने आगे कहा, ‘सपा और बीजेपी के बीच जो लड़ाई है वह अब बीजेपी और भागीदारी परिवर्तन मोर्चे के बीच होगी। सपा गठबंधन तीसरे नंबर पर चला जाएगा।

बता दें कि ओवैसी की पार्टी ने इस बार एक ब्राह्मण नेता को भी टिकट दिया है। इसको लेकर पार्टी चर्चा में है। एआईएमआईएम पार्टी में अकेले ब्राह्मण पंडित मनमोहन झा गाजियाबाद के साहिबाबाद से चुनाव लड़ रहे हैं। गाजियाबाद की साहिबाबाद से मनमोहन मैदान में उतरे हैं। इन्होंने ओवैसी की पार्टी की विचारधार को सही करार दिया है जिसकी वजह से वह पार्टी से जुड़े भी हैं।

इस दौरान ओवैसी ने कहा कि अगर ये गठबंधन सत्ता में आता है, तो दो मुख्यमंत्री बनाए जाएंगे। एक मुख्यमंत्री दलित होगा, जबकि दूसरा ओबीसी समाज से। इतना ही नहीं तीन डिप्टी सीएम भी बनाए जाएंगे। इनमें मुस्लिम समुदाय का भी होगा। वहीं, बाबू सिंह कुशवाहा ने कहा कि इस गठबंधन में अभी और भी दल आ सकते हैं, दरवाजे बंद नहीं हैं। उन्होंने आगे कहा, ‘सपा और बीजेपी के बीच जो लड़ाई है वह अब बीजेपी और भागीदारी परिवर्तन मोर्चे के बीच होगी। सपा गठबंधन तीसरे नंबर पर चला जाएगा।

बता दें कि ओवैसी की पार्टी ने इस बार एक ब्राह्मण नेता को भी टिकट दिया है। इसको लेकर पार्टी चर्चा में है। एआईएमआईएम पार्टी में अकेले ब्राह्मण पंडित मनमोहन झा गाजियाबाद के साहिबाबाद से चुनाव लड़ रहे हैं। गाजियाबाद की साहिबाबाद से मनमोहन मैदान में उतरे हैं। इन्होंने ओवैसी की पार्टी की विचारधार को सही करार दिया है जिसकी वजह से वह पार्टी से जुड़े भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *