अन्तर्राष्ट्रीय

5 राज्यों, (यूपी, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर) मे चुनाव, पार्टियां इन चेहरों पर लगा रहीं दाव…पढ़िये पूरी खबर

न्यूज़ डेस्क: सियासी रण तैयार है और सभी पार्टियां आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर चुनाव प्रचार में जुटी हैं. कुछ राज्यों में पार्टियों ने अपने पत्ते खोलते हुए सीएम पद के चेहरों का ऐलान कर दिया है तो वहीं कुछ राज्यों में राजनीतिक दल अभी इस तरह के ऐलान से बच रहे हैं. उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर ऐसे राज्य हैं, जहां सियासी समर दिलचस्प रहने वाला है.

यूपी, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर में अभी बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की सरकार है, वहीं पंजाब में कांग्रेस सत्ता में है. राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक यूपी में बीजेपी और कांग्रेस के बीच दिलचस्प मुकाबला देखने को मिल सकता है. वहीं उत्तराखंड में भी सियासी रण काफी रोमांचक हो सकता है. तटीय राज्य गोवा में त्रिकोणीय मुकाबले के आसार हैं तो पंजाब भी इन दिनों सियासी गर्मी बढ़ा रहा है. पूर्वोत्तर की मणि कहे जाने वाले मणिपुर में भी राष्ट्रीय स्तर के नेताओं के दौरों ने सियासी पारे को नीचे नहीं आने दिया है.
यूपी में सीएम पद के चेहरे

BJP यूपी में जहां सीएम योगी के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है. समाजवादी पार्टी की बात करें तो पूर्व सीएम अखिलेश यादव सीएम पद का चेहरा माने जा रहे हैं. वो पूर्व सीएम रह चुके हैं और सपा के मुखिया है, ऐसे में अगर पार्टी राज्य में जीत हासिल करती है तो निर्विवाद रूप से वो सीएम बन सकते हैं. कांग्रेस ने फिलहाल यूपी में कोई चेहरा घोषित नहीं किया है, लेकिन वो पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी की फेस वेल्यू के आधार पर चुनाव मैदान में है. बहुजन समाज पार्टी (BSP) मायावती के चेहरे को लेकर ही सियासी रण में है. हालांकि राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि पार्टी के प्रचार अभियान में मजबूती दिखाई नहीं दे रही है, ऐसे में यूपी में लड़ाई बीजेपी बनाम सपा के बीच ही नजर आ रही है.

उत्तराखंड में कौन-कौन से चेहरे

उत्तराखंड में बीजेपी ने सीएम पद को लेकर पत्ते नहीं खोले हैं. हालांकि मौजूदा सीएम पुष्कर सिंह धामी यहां BJP के जीत हासिल करने पर सीएम पद के मजबूत दावेदार हो सकते हैं. अनिल बलूनी BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं और सीएम पद के दावेदार भी हो सकते हैं. कांग्रेस ने भी राज्य में सीएम पद के चेहरे का ऐलान नहीं किया है, हालांकि हरीश रावत संभावित तौर पर कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद का चेहरा माने जा रहे हैं. हाल ही के दिनों में उनकी पार्टी के भीतर नाराजगी के बाद ये बात और खुलकर सामने आ गई थी. AAP के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तराखंड में आप नेता रिटायर्ड कर्नल अजय कोठियाल को CM पद का चेहरा घोषित किया है. कर्नल कोठियाल 26 साल तक सेना में सेवा दे चुके हैं. उन्होंने 19 अप्रैल 2021 को ही AAP की सदस्यता ली है.
पंजाब में कितने सीएम कैंडिडेट

पंजाब में कांग्रेस ने सीएम पद के चेहरे का ऐलान नहीं किया है. मौजूदा सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी में कई चेहरे हैं, जो सीएम पद के दावेदार हो सकते हैं. चरणजीत सिंह चन्ना और सिद्धू इसमें अहम हैं, जिनको चेहरा बनाकर पार्टी चुनाव में उतर सकती है. हालांकि पार्टी फिलहाल किसी तरह की जल्दबाजी में नहीं है, क्योंकि कांग्रेस राज्य में अपने नेताओं की अंतर्कलह के बड़े दौर से गुजरी है. ऐसे में मुश्किल ही है कि कांग्रेस यहां सीएम पद का कोई चेहरा घोषित करे. पंजाब में शिरोमणि अकाली दल के बिना के इस बार चुनाव लड़ रही BJP, कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की बात कर रही है. हालांकि कैप्टन की पार्टी और बीजेपी के बीच सीटों को लेकर फिलहाल बातचीत का दौर जारी है. शिरोमणि अकाली दल की बात करें तो पार्टी के मुखिया सुखबीर बादल सीएम सीएम पद को लेकर दावेदारी ठोंकते रहे हैं. हालांकि प्रकाश सिंह बादल को लेकर भी अटकलों का दौर जारी है. किसान आंदोलन के दौरान सामने आया नाम, बलवीर सिंह राजेवाल, पंजाब में AAP का सीएम पद का चेहरा हो सकते हैं. वहीं भगवंत मान को लेकर भी अटकलों का दौर गर्म है.

गोवा में कौन किस चेहरे के सहारे

गोवा में बीजेपी मौजूदा सीएम प्रमोद सावंत के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की बात कह रही है, वहीं विश्वजीत राणे का नाम भी चर्चाओं में है. विश्वजीत राणे गोवा सरकार में मंत्री भी हैं. वहीं कांग्रेस ने फिलहाल यहां सीएम पद के चेहरे का ऐलान नहीं किया है. राष्ट्रीय फलक की चाह रखने वाली ममता बनर्जी की टीएमसी (TMC) ने तटीय राज्य के चुनाव में रोमांच पैदा कर दिया है. हालांकि ममता बनर्जी ने सीएम फेस का ऐलान नहीं किया है. यहां टीएमसी की तरफ से महुआ मोइत्रा चुनावी कमान संभाल रही हैं. हाल ही में महुआ मोइत्रा ने कहा भी था कि चुनाव से पहले उनके पास सीएम पद का चेहरा होगा. गोवा के चुनाव में AAP फिलहाल केजरीवाल की फेस वेल्यू पर ही चुनाव मैदान में है. यहां AAP ने सीएम पद का चेहरा घोषित नहीं किया है. हालांकि मनीष सिसोदिया ने हाल ही में कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों में AAP का मुख्यमंत्री चेहरा ओबीसी समुदाय से होगा.

मणिपुर में किस पार्टी का चेहरा कौन

मणिपुर में (Manipur Assembly Election 2022) मुकाबला कांग्रेस और बीजेपी के बीच है. दोनों ही यहां अपने सहयोगियों के साथ चुनाव लड़ रही हैं. मणिपुर में एन बीरेन सिंह बीजेपी का चेहरा माने जा रहे हैं, हालांकि इसका आधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है. पार्टी की राज्य इकाई की प्रमुख ए शारदा देवी भी सीएम पद के लिए पार्टी की पसंद बन सकती हैं, वो एक तेज तर्रार छवि वाली राजनेता मानी जाती हैं. हालांकि सीएम उम्मीदवार को लेकर बीजेपी ने पत्ते नहीं खोले हैं. मणिपुर में कांग्रेस फिलहाल चेहरे के संकट से जूझ रही है. ज्यादातर पुराने चेहरे पार्टी का दामन छोड़ चुके हैं, ऐसे में कांग्रेस इस बार चुनाव में बिना चेहरे के ही नए नेताओं के भरोसे मैदान में हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *