फोटो

पिता पुत्री के खूनी खेल का खुलासा, पुलिस ने गिरफ्तार कर आरोपियों को जेल भेजा

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जनपद में अज्ञात हमलावरों ने घर में सो रहे पिता पुत्री की बड़ी बेरहमी से निर्मम हत्या कर दी थी, पुलिस को घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए थे, और शव का पंचनामा भर के पोस्टमार्टम को भिजवा दिया गया था, पुलिस ने हत्यारो की तलाश शुरू कर दी थी, डबल मर्डर से क्षत्रे में सनसनी फैल गई थीं, घटना की गंभीरता को देखते हुए एडीजी बरेली ने घटना स्थल का निरीक्षण किया था, और जल्द से जल्द खुलासे की बात कही थी, पुलिस ने आज पिता पुत्री की हत्या के खूनी खेल का खुलासा किया है, हत्या की वजह जानकर सब लोग हैरान हैं, मामूली डांटने पर दो युवाओ दुवारा हत्या की गई थी, पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया है।

मुरादाबाद जनपद के थाना नागफनी क्षेत्र के किसरोल मोहल्ले के रहने वाले नजरुल और उनकी बेटी समरीन की हत्या बीते 30-31अक्टूबर को अज्ञात हमलावरों दुवारा घटना को अंजाम दिया गया था, घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे, और मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था, हत्या आरोपियों ने हत्या में हेवनियात की सारी हदें पार कर दी थी, क्यों के शवों को बड़ी बेरहमी से चाकू से गोदा गया था, दोनों के मरने के बाद भी लगातार दोनों के शवो पर लगातार चाकू से वार किया गया थे,जिसको देखकर पुलिस भी चौंक गए और परिवार वालों का भी रो-रोकर बुरा हाल था, क्योंकि शवो की स्थिति हत्या आरोपियों ने बहुत बुरी कर दी थी, दोनों ही पिता पुत्री की निर्मम हत्या की गई थी, पुलिस ने सर्विलांस टीम की मदद से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, और जब उनसे पूछताछ की तो उन्होंने हत्या करने का जो खुलासा किया वजहा है वह सुनकर तो सब ही चौक से गए हैं, हत्या आरोपी ने लॉकडाउन में अपनी मीट की दुकान खोली थी, लॉकडाउन के कारण दुकान बंद करने के लिए मृतक ने कहा था, कि कोरोना महामारी चल रही है लॉकडाउन लगा हुआ है आप लोग दुकान ना खोलें जिस पर दबंगों ने पहले भी म्रतक से लड़ाई झगड़ा करा था, जब से ही हत्या आरोपी मासूम सी शक्ल के दिखने वाले यह दोनों युवा नजरुल से दुश्मनी रखते थे और म्रतक के घर नजरुल की हत्या करने के लिए गए थे, लेकिन उस वक्त मृतका की बेटी समरीन भी जाग गई, समरीन ने अपनी पिता की हत्या करते हुए आरोपियों को देख लिया और आरोपी की पहचान कर ली जिससे पड़ोस के रहने वाले आरोपी ने अपने आपको बचाने के लिए समरीन को भी मौत के घाट उतार दिया, पुलिस ने हत्यारों के पास से हत्या में इस्तेमाल हुआ चाकू और चापड़ बरामद कर लिए हैं और हत्या में इस्तेमाल हुआ मोबाइल भी आरोपियों ने नदी में फेंक दिया था जो पुलिस ने हत्या आरोपियों की निशानदेही पर बरामद किया है साथ ही घर में रखे पैसों से हत्यारों ने अपने लिए कपड़े भी खरीद लिए थे जो पुलिस ने बरामद कर लिए हैं पुलिस ने दोनों युवा हत्यारों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है,

नागफनी क्षेत्र में हुई पिता पुत्री की निर्मम हत्या के घटनास्थल का निरीक्षण एडीजी बरेली जोन द्वारा करा गया था और जल्द से जल्द खुलासे की बात कही गई थी, एसएसपी मुरादाबाद ने हत्या का खुलासा करते हुए पड़ोसी के ही रहने वाले 2 युवाओं को गिरफ्तार किया है जिन्होंने लॉकडाउन में मीट दुकान खोलने को लेकर हुए विवाद में नजरुल की हत्या करने के इरादे से घर में घुसे थे लेकिन हत्या करते वक्त नजरुल की बेटी समरीन भी जाग गई आरोपियों को शक हो गया कि उन्हें हत्या करते हुए समरीन ने देख लिया है जिस वजह से उन्होंने समरीन की भी हत्या कर दी, पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और इनके पास से हत्या में इस्तेमाल हथियार भी बरामद कर लिए हैं।

पिता पुत्री की हत्या करने वाले युवक का कहना है, नजरुल उन्हें नशा करने नहीं देता था और जिससे उनका विवाद आपस में हो गया था, जिसके बाद नज़रुल को मानने के लिए उसके घर गए थे, और उसकी बेटी समरीन के मुंह पर नशे का रुमाल सुमा दिया था लेकिन वह उठ गई और उसने हत्या करते हुए देख लिया जिस वजह से हत्यारों ने उसे भी मौत के घाट उतार दिया, भोली भाली शक्ल में दिखने वाले यह दोनों युवाओ ने पिता पुत्री की बेरहमी से हत्या की है पुलिस ने हत्यारो को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

भले ही अपराधी अपराध समझ के यह सोचता है कि कानून के हाथ उससे बहुत दूर हैं लेकिन वह यह भूल जाता है कोई भी गुनाह करने के बाद वह कभी भी गुनाह को नहीं छुपा जा सकता,युवकों को नजरुल ने नशा करने से रोका था,कि तुम लोग नशा मत करा करो लेकिन इन नशे के आदि युवकों ने नजूल से झगड़ा कर लिया और मन में नज़रुल की हत्या की ठान ली, हत्या वाले दिन से पहले भी एक बार यह दोनों लोग नजरुल की हत्या करने के लिए उसके घर गए थे लेकिन कामयाब नहीं हो पाए, जिस दिन घटना को अंजाम दिया गया उस दिन त्यौहार था सभी लोग थके हुए थे और अपने अपने घरों में सो रहे थे तो इन दोनों लोगों ने त्यौहार की आड़ में इस हत्या को अंजाम दिया था, लेकिन पुलिस ने इन हत्या आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *