प्रदेश

पूरे प्रदेश के साथ गोरखपुर के बुनकरों ने बिजली के फ्लैट रेट की मांग को लेकर की अनिश्चितकालीन हड़ताल

रिपोर्ट:-रविन्द्र चौधरी

 

कोरोनाकाल में यूपी की योगी सरकार की ओर से बुनकरों का फ्लैट रेट पर बिजली दिए जाने की सुविधा को खत्म करने के खिलाफ प्रदेश भर के बुनकर लामबंद हो चुके हैं जिसके खिलाफ उत्तर प्रदेश के करोड़ों बुनकर और इस बुनकरी के व्यवसाय के जुड़े लोग बेमियादी हड़ताल पर चले गए हैं इसी हड़ताल का असर गोरखपुर में पावरलूम सहित हैंडलूम मशीनों और हैंडलूम पर भी देखने को मिल रहा है।

गोरखपुर में कहीं विरोध प्रदर्शन के साथ तो कहीं सिर्फ अपनी मुर्री को बंद करके बुनकरों ने अपना आक्रोश दर्ज कराया।गोरखपुर के बुनकर अब्दुल इस्लाम ने बताया कि पहले बुनकरों को 143 रुपये पर बिजली मिलती थी, लेकिन मौजूदा योगी सरकार ने उस फ्लैट रेट की बगैर सब्सिडी वाली बिजली दर को खत्म कर दिया है।इसका नतीजा यह होगा कि वे इस कारोबार को छोड़ने के लिए विवश हो जाएंगे।

उनका कहना है,जब तक सरकार उनकी मांग नहीं मान जाती तब तक उनके करघे बंद ही रहेंगे यूपी में बुनकरों की संख्या करोड़ों में है,जबकि गोरखपुर हजारो बुनकरों के अलावा इस व्यवसाय से अन्य कारोबारी और मजदूर भी जुड़े हैं।

इसके बंद होने से गोरखपुर की पूरी अर्थव्यवस्था पर असर आएगा।इसके साथ ही उन्होंने कहा कि फ्लैट रेट पर बिजली 1 जनवरी 2020 से खत्म कर दी गई है।उन्होंने बताया कि इस सरकार का फैसला समझ के परे इसलिए है कि जो बुनकर कारोबार एक हजार करोड़ की सब्सिडी देता है,उससे 150 करोड़ के फायदे के लिए सरकार एक हजार करोड़ का नुकसान कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *