फोटो

समाज सेवा के लिए डिग्री की नहीं आत्मविश्वास की जरूरत : रागिनी

समाज सेवा के लिए डिग्री की नहीं आत्मविश्वास की जरूरत : रागिनी

उत्कृष्ट कार्य करने को लेकर अंबिका फाउंडेशन ने मिशन शक्तियों को भगवान बुद्ध की प्रतिमा देकर किया सम्मानित

शिक्षा ,चिकित्सा, समाज सेवा ,खेल एवं संगीत के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं का हुआ सम्मान

बलरामपुर खुदी को कर इतना बुलंद कि खुदा बंदे से पूछे तेरी रजा क्या है कुछ ऐसी ही बहुमुखी प्रतिभा की धनी अंबिका फाउंडेशन की चेयरपर्सन सुधा बौद्ध है जो विपरीत परिस्थितियों के बावजूद भी तमाम झंझाबातों की परवाह किए बगैर निस्वार्थ निष्काम भाव से लगातार समाज सेवा में उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं इसी उत्कृष्ट कार्य की कड़ी में समाज में शिक्षा स्वास्थ्य चिकित्सा खेल संगीत के क्षेत्र में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने वाली महिला शक्तियों को सम्मान समारोह के माध्यम से सम्मानित करके अन्य महिलाओं की प्रेरणा स्रोत बनी हैसामाजिक संस्था अंबिका फाउंडेशन ने जिले में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 35 महिला शक्तियों को प्रशस्ति पत्र एवं बुद्ध की प्रतिमा को देकर सम्मानित किया है सम्मान समारोह बलरामपुर मॉडर्न बालिका इंटर कॉलेज सभागार में आयोजित किया गया
समारोह की मुख्य अतिथि जिला महिला कल्याण अधिकारी रागिनी मिश्रा एवं विशिष्ट अतिथि बलरामपुर मॉडर्न इंटर कॉलेज की सेवानिवृत्ति प्रिंसिपल गीता त्रिपाठी रहे हैं कार्यक्रम की अध्यक्षता फाउंडेशन अध्यक्ष सुधा बौद्ध ने किया है कार्यक्रम संयोजक वरिष्ठ पत्रकार डॉक्टर अविनाश पांडे रहे हैं कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण से किया गया मुख्य अतिथि ने कहा कि आज महिला शक्तियों का सम्मान निश्चय ही समाज में महिलाओं के पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करने के कारण मिल रहा है आज राष्ट्र का उत्थान महिलाओं के निरंतर प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ने से हो रहा है विशिष्ट अतिथि गीता त्रिपाठी ने कहा कि अंबिका फाउंडेशन ने पहली बार शिक्षा स्वास्थ खेल समाज सेवा में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को मिशन शक्ति के तहत जो सम्मान दिया है उससे महिलाओं अच्छे कार्य करने का हौसला बढ़ेगा कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही फाउंडेशन अध्यक्ष ने कहा कि संस्था का मुख्य उद्देश्य शिक्षा स्वास्थ्य एवं महिलाओं बेटियों की सुरक्षा पर कार्य करना है साथ ही साथ गरीब निराश्रित जरूरतमंदों की मदद करना है जिसके लिए संस्था सदैव तत्पर हैं संस्था ने कोविड-19 में जरूरतमंदों को राशन देना वृद्ध आश्रम में दैनिक उपभोग करने वाले सामानों को बुजुर्गों के बीच वितरण करना गरीब बच्चों को स्टेशनरी के साथ उन्हें पढ़ाई के अन्य संसाधन उपलब्ध कराना निशुल्क मेडिकल कैंप लगाकर चिकित्सकों के माध्यम से दवाइयां एवं निशुल्क उपचार परामर्श दिन दिलाना आदि कार्य करा रही है कार्यक्रम संयोजक वरिष्ठ पत्रकार डॉ अविनाश पांडे ने कहा कि अंबिका फाउंडेशन के उत्कृष्ट सामाजिक कार्यों को देखते हुए सिने जगत के फिल्म स्टार एवं ज़ी टीवी पर प्रसारित होने वाले रामायण एवं संकट मोचन हनुमान धारावाहिक के भगवान राम का रोल अदा करने वाले समाजसेवी गगन मलिक ने संस्था का ब्रांड एम्बेसडर बनकर ना केवल जिले की संस्था का हौसला बढ़ाया है बल्कि संस्था के सामाजिक कार्य को बढ़ाने का आश्वासन भी दिया है यह उपलब्धि संस्था के निस्वार्थ निष्काम भाव से किए गए सामाजिक कार्यों से मिला है कार्यक्रम संयोजक ने बताया कि अंबिका फाउंडेशन से सभी महिलाओं सहित बुद्धिजीवियों को सीख लेनी चाहिए और समाज सेवा में सभी को बढ़-चढ़कर कार्य करना चाहिए समारोह में शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली सेवानिवृत्त प्रिंसिपल गीता त्रिपाठी निशुल्क बेटियों को कोचिंग देने के लिए डॉक्टर मीनाक्षी त्रिपाठी गरीब बच्चों को कान्वेंट की शिक्षा देने वाली प्रधानाध्यापिका डॉक्टर प्रतिमा सिंह परिषदीय विद्यालय को कानबेंट बनाने वाली प्रधानाध्यापिका रेशु पांडे एवं इंचार्ज प्रधानाध्यापिका रोली पांडे निजी स्कूल में उत्कृष्ट शिक्षण कार्य करने वाली अध्यापिका किरण मिश्रा शहर के गरीब बच्चों को सरकारी स्कूल में अच्छी तालीम देने वाली डॉक्टर सरिता वर्मा संगीता त्रिपाठी उर्मिला द्विवेदी बंदना मिश्रा समाज सेवा एवं चिकित्सा के क्षेत्र में पारिवारिक विवादों को समाधान करने वाली तनवीर जहां मरीजों शिवम गर्भवती महिलाओं सहित नवजात शिशु की निरंतर निस्वार्थ सेवा करने वाली ललिता तिवारी एवं बिंदु विश्वकर्मा महिलाओं की समस्याओं एवं सामाजिक कार्यों में लोगों की मदद करने वाली आद्या सिंह पिकी व झूमा सिंह ,सुनीता मिश्रा कविता ओझा रिंकी जायसवाल खेल के क्षेत्र में सभी खेलों की नेशनल कोच हांकी खिलाड़ी रश्मि सिंह कंचन श्रीवास्तव ताइक्वांडो खिलाड़ी दिव्या गिरी संगीत के क्षेत्र में जिले की प्रतिभाओं को संगीत के क्षेत्र में आगे बढ़ाने का निरंतर कार्य करने वाली सलोनी पांडे को मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि के हाथों प्रशस्ति पत्र एवं भगवान बुद्ध की प्रतिमा देकर सम्मानित किया गया है इसी क्रम में बेजुबान जानवरों की निस्वार्थ भाव से सेवा करने वाले रविंद्र कमलापुरी एवं कोविड-19 में नगर वासियों की सेवा करने वाले अजय पांडे एवं विक्कू तिवारी को भी फाउंडेशन अध्यक्ष सुधा बौद्ध के हाथों प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया कार्यक्रम के अंत में फाउंडेशन अध्यक्ष ने सभी महिला शक्तियों को आभार जताते हुए कार्यक्रम को सफल बनाने वाली एवं संस्था के प्रत्येक कार्यों को सामाजिक गतिविधि देने वाले वरिष्ठ पत्रकार डॉक्टर अविनाश पांडे का आभार जताते हुए सदैव ऐसे ही उत्कृष्ट कार्य करने की अपेक्षा की है मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि कार्यक्रम संयोजक के सामाजिक कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि जिले में शिक्षा स्वास्थ्य खेल समाज सेवा प्रत्येक क्षेत्र में सराहनीय योगदान रहता है जो जिले के लिए बड़ी उपलब्धि से कम नहीं है आज के व्यस्ततम समय में निस्वार्थ निष्काम भाव से इस तरह का सेवा विशाल से कम नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *