प्रदेश

समाजवादी पार्टी के दो पूर्व मंत्रियों समेत 40 लोगों पर एफ आई आर हुई दर्ज

रिपोर्ट:-सरताज सिद्दीकी

 

पीलीभीत में समाजवादी पार्टी के दो पूर्व मंत्रियों समेत 40 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई है सपा सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री हाजी रियाज अहमद और इनके साथ रहे राज्य मंत्री हेमराज वर्मा,पूर्व विधायक पीतमराम व जिलाध्यक्ष आनन्द सिंह यादव और अन्य लोगों के खिलाफ बच्ची से रेप व हत्या के मामले में अंतिम संस्कार के समय बिना अनुमति धरना-प्रदर्शन करने का आरोप है।

सपा के नेताओ ने मुकदमा दर्ज होने के बाद पक्षपात पूर्ण कार्यवाही बताई है। क्योकि मौके पर बीजेपी विधायक भी थे।सपा नेताओं का कहना है कि पुलिस चाहे कितने मुकदमे लिखे वो न्याय दिलाने के लिए पीछे नही हटेंगे साथ ही पुलिस से गिरफ्तारी करने की बात कही है।

आपको बता दें कि 7 नवंबर की सुबह गन्ने के खेत में एक 6 वर्षीय मासूम बच्ची शव मिला था पीएम रिपोर्ट के बाद मालूम हुआ कि उसकी रेप के बाद गला दबाकर हत्या कर दी गई थी इस मामले को लेकर समाजवादी पार्टी के दो पूर्व मंत्रियों व पूर्व विधायक समेत 40 लोग दाह संस्कार में गए।

आरोप है कि वहाँ जाकर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया और बच्चे के परिवार वालों को 25 लाख का मुआवजा और अपराधी की जल्द गिरफ़्तारी की मांग करने लगे आरोप है कि मुआवजे सहित आरोपी की गिरफ्तारी की मांग करते हुए जमकर हंगामा कर धरने पर बैठ गए।

जिसके बाद पुलिस ने किसी तरह समझा बुझा कर शव का अंतिम संस्कार कराया।इस मामले पर कार्रवाई करते हुए सपा के दो पूर्व मंत्री हाजी रियाज अहमद,हेमराज वर्मा सहित पूर्व विधायक पीतमराम सहित करीब 40 सपा कार्यकर्ताओं पर कोविड 19 के नियमो की धज्जियां उड़ाते समेत कई धराओ में fir दर्ज की गई है।

वहीं इस पूरे मामले में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं व भाजपा पदाधिकारियों को इस fir से दूर रखा गया है।मामले में पीलीभीत पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश मीडिया से कुछ भी कहने से बच रहे हैं।