अन्तर्राष्ट्रीय

शहीद सुलैमानी की हत्या के मामले में 2500 लोगों की अमरीका के ख़िलाफ़ याचिका पर सुनवाई कल से

इस्लामी क्रांति संरक्षक फ़ोर्स आईआरजीसी के क़ानूनी मामलों के निदेशक का कहना है कि जनरल क़ासिम सुलैमानी को शहीद किए जाने के मामले में 2500 लोगों ने अमरीका के ख़िलाफ़ याचिका दायर की है जिस पर अदालत की पहली सुनवाई कल होगी।

जनरल सोहराब अली शमख़ानी ने जनरल क़ासिम सुलैमानी पर आयोजित एक सेमीनार में बोलते हुए कहा कि इस समय अदालत में 2500 लोगों की याचिकाएं मौजूद हैं। इनमें अधिकतर वे लोग हैं जिनके जवान इराक़ और सीरिया में पवित्र स्थलों की रक्षा के लिए आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हो गए। इन याचीकर्ताओं ने अमरीका के आतंकी हमले में जनरल सुलैमानी की शहादत से दिल को पहुंचने वाले गहरे आघात के आधार पर शिकायत की है।

सोहराब अली शमख़ानी ने कहा कि हम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी क़ानूनी कार्यवाही की कोशिश कर रहे हैं, बेशक हम जानते हैं कि अंतर्राष्ट्रीय क़ानूनों की मदद से हमें कोई नतीजा मिलना मुश्किल है लेकिन हम इस पूरी प्रक्रिया को अलग रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं, यह चीज़ें इतिहास में हमेशा के लिए बाक़ी रहेंगी।

उन्होंने कहा कि जब आतंकी अमरीकी ख़ुद कह रहे हैं कि उन्होंने जनरल सुलैमानी को शहीद किया तो इस मामले पर ज़रूर क़ानूनी कार्यवाही की जानी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *