उत्तर प्रदेश

3 महीने में सोशल मीडिया पर हसीब खान के चाहने वाले हुए बीस हजार कैसे पढ़िए पूरी खबर

 

बलरामपुर उतरौला—आपको बता दें कि प्रदेश अध्यक्ष समाजवादी पार्टी के बलरामपुर जनपद में आगमन लगभग कई महीने पहले हुआ था। जिसमें जगह जगह उनका जनपद में भव्य स्वागत हुआ था।

लेकिन सादुल्लाह नगर के एक गांव में हुए उनके कार्यक्रम में उतरौला विधानसभा से समाजवादी पार्टी से कई उम्मीदवारों ने प्रदेश अध्यक्ष के सामने टिकट की दावेदारी को लेकर जमकर हुड़दंग मचाया था। जिसको लेकर प्रदेश अध्यक्ष खासा नाराज नजर आए थे और मंच से नाराजगी जताई थी।

जिसके बाद कुछ ही दिनों में एक ऐसा नतीजा सामने आया जिसका समाजवादी पार्टी के नेताओं को चौंका कर रख दिया। और समाजवादी पार्टी से टिकट दावेदारों के होश उड़ गए। अचानक एक ऐसा नाम उतरौला विधानसभा से जुड़ा जो राजनैतिक गलियारो में चर्चा का विषय बन गया। वह नाम जनवादी पार्टी सोशलिस्ट के प्रदेश उपाध्यक्ष और उतरौला सीट से समाजवादी पार्टी और जनवादी पार्टी गठबंधन से उतरौला विधानसभा से चुनाव लड़ने के दावेदारों में एक नाम हसीब खान का जुड़ा । जिसके बाद हसीब खान को लोगों ने जाना कि हसीब खान इस उतरौला तहसील के अंतर्गत ही एक गांव में रहते हैं। जिनका राजनीतिक परिवार से कोई लेना-देना नहीं है।हसीब खान अपने सीधे साधे और बेफिक्र होकर लोगों में अपनी बात रखने के लिए जाने जाते हैं। यह एक कारोबारी हैं ।लेकिन क्रोना और लॉकडाउन में लोगों की मदद करने के लिए अक्सर राजनेताओं का सहारा लेकर जनपद और क्षेत्र वासियों की मदद करते रहे । जब जहां सब कुछ अपने द्वारा मदद करने के बाद भी राजनेताओं की मदद जरूरी रहती थी। इसीलिए हसीब खान ने चुनाव लड़ने का मन बना लिया और जनवादी पार्टी से उतरौला गठबंधन सीट से दावेदारी ठोक दी। जिसके बाद क्षेत्र में जनता के बीच गए और लोगों से मिलना और संवाद करना शुरू किया ।जैसा कि सभी दलों के नेता अक्सर क्षेत्र में जाते और करते थे। जनसभा करना और लोगों के सुख दुख में शामिल होना ।

जिसका नतीजा यह हुआ कि मात्र 3 महीने में सोशल मीडिया पर 20,000 से ज्यादा फॉलोवर और लगभग साढ़े 19000 से ज्यादा के आसपास लोग लाइक करने लगे ।जो अपने आप में उतरौला विधानसभा से किसी नए चेहरे के लिए चर्चा का विषय बना हुआ है। अब देखना यह है कि भाजपा, बसपा, कांग्रेस, और समाजवादी पार्टी के टिकट वितरण में कई दावेदार विधानसभा उतरौला से टिकट मांग रहे हैं। जिसमें समाजवादी पार्टी से भी कई चेहरे टिकट के दावेदारों में हैं। जिसमें से एक चर्चित चेहरा हसीब खान का भी है। ऐसे में सपा और जनवादी पार्टी सोशलिस्ट गंठबंधन के उतरौला विधानसभा से टिकट किसको मिलता है । यह तो आने वाला वक्त बताएगा ।

 

क्या उन तमाम दावेदारों और राजनैतिक परिवारों के बीच हसीब खान अपने इन चाहने वालों के बीच गठबंधन के प्रत्याशी के रूप में जगह बनाने में कामयाब होंगे। या फिर समाजवादी पार्टी अपनी सीट से गठबंधन को टिकट न देकर अपने ही पार्टी के प्रत्याशियों पर विश्वास जताएगी। यह एक राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *