प्रदेश

ट्रांसपोर्ट यूनियन की समस्या को लेकर की गई प्रेस वार्ता।

रिपोर्ट:-राशिद खान

 

मेरठ। ट्रांसपोर्ट यूनियन की समस्या को लेकर पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल के अध्यक्ष पंडित आशु शर्मा के द्वारा एक प्रेस वार्ता का आयोजन होटल ओलिविया में किया गया। जिस वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष पंडित आशु शर्मा ने कहा कि नोटबंदी तथा जीएसटी से जहा व्यापारी वर्ग पहले से ही टूट चुका था वहां अब कोरोना के चलते देश बंदी लॉकडाउन ने व्यापारी समाज को बर्बाद करने का कार्य कर दिया बड़ा दुख का विषय है।

केंद्र तथा प्रदेश सरकार के द्वारा किसी भी प्रकार की मदद व्यापारी वर्ग की अभी तक नहीं की गई 20 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज की घोषणा देश के प्रधानमंत्री ने की परंतु एक पैसा भी अभी तक राहत के रूप में व्यापारी को नहीं मिला। पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल मांग करता है कि सरकार व्यापारियों को विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा करें तथा छोटे व्यापारियों का ₹5 लाख तक का कर्जा माफ करें। इन सभी मांगों को संगठन लगातार उठाता रहा है। आज इस वार्ता का मुख्य रूप से ट्रांसपोर्ट यूनियन तथा प्राइवेट बस ऑपरेटर एसोसिएशन के पदाधिकारी अपनी समस्या को लेकर शामिल है ट्रांसपोर्ट यूनियन के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश शर्मा तथा प्राइवेट बस ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष ललित चौहान अपने साथियों के साथ मौजूद हैं पिछले लगभग 5 महीने से ट्रक मालिक तथा बस मालिकों की स्थिति बेहद चिंताजनक है तथा बस मालिकों के द्वारा बताया गया कि सरकार के द्वारा हर प्रकार का टैक्स कैसे जीएसटी रोड पर रोडवेज टोल टैक्स सबसे ज्यादा किया जाता है उसके बावजूद भी विभाग के चेक पोस्ट पर उत्पीड़न किया जाता है बस मालिकों की स्थिति और भी दयनीय है पिछले 5 महीने से प्राइवेट बसों के पहिए थम से गए थे कोई भी निजी आयोजन नहीं हो पा रहा है। जिस कारण प्राइवेट बसों की बुकिंग कैंसिल हो गई बड़ी संख्या में इंश्योरेंस फिटनेस आदि की मार से बचने के लिए बस आपरेटरों ने अपनी बसों को आरटीओ में ही सरेंडर कर दिया है। जहा वार्ता के जरिए बताया कि हमारी यह पांच मागे जल्द से जल्द पूरी की जाएं नहीं तो हमारा संगठन आंदोलन करने से भी पीछे नहीं हटेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *